Browsing Tag

भाजपा

मध्यप्रदेश में उपचुनाव : भ्रम और हारने की ज़िद पर बैठी कांग्रेस

(सम्राट बौद्ध )2018 के मध्यप्रदेश में चुनाव के समय और चुनाव के बाद मीडिया ने एक बड़ा भ्रम खड़ा किया कि अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण कानून के मुद्दे पर सवर्ण बीजेपी से नाराज हैं और वे बीजेपी के खिलाफ वोट करेंगे, इस भ्रम का सबसे

हाथरस की बेटी के साथ न्याय हो : जातीय गुंडों के खिलाफ सख्त कार्यवाही हो

( विद्या भूषण रावत )उत्तर प्रदेश के हाथरस में वाल्मीकि समाज की लड़की की जिस बेरहमी से बलात्कार के बाद ह्त्या की गयी है वह दिल दहला देने वाली है. वैसे यह घटना 14 सितम्बर को घटी और उसके बाद से ही लड़की के परिवार वाले भटक रहे थे के उसके साथ

जानबूझकर कम बजट आवंटित कर मनरेगा को कमजोर कर रही है मोदी सरकार- शंकर सिंह

3 फरवरी, 2020, भीम (राजसमंद) आज महात्मा गाँधी नरेगा के 14 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर राजसमंद जिले की भीम पंचायत समिति के सामने प्रदर्शन किया गया और उससे पहले मनरेगा मजदूरों ने पूरे भीम शहर में रैली निकाली. रैली में मजदूरों ने बड़ी तादाद

भाजपा का राष्ट्रवाद और चुनावी गणित

(राम पुनियानी) भाजपा एक नहीं बल्कि अनेक मायनों में ‘पार्टी विथ अ डिफरेंस’ है. वह देश की एकमात्र ऐसा बड़ी राजनैतिक पार्टी है जो भारतीय संविधान में निहित प्रजातंत्र और धर्मनिरपेक्षता के मूल्यों के बावजूद यह मानती है कि भारत एक हिन्दू

फेसबुक बंद करना चाहती है दिलीप मंडल का अकाउंट ?

( विशेष प्रतिनिधि ) देश के जाने माने मीडिया विशेषज्ञ एवं बहुजन चिंतक दिलीप मंडल का फेसबुक अकाउंट कभी भी बन्द किया जा सकता है । मंडल ने उपरोक्त जानकारी देते हुए लिखा है कि -"फ़ेसबुक पर मेरी कोई…

जनता हर सत्ता का शास्वत विपक्ष है !

" पोलिटिकली चाहे जितना भी इनकरेक्ट हो, लेकिन नोटबन्दी और उसके बाद जीएसटी का जहर देकर देश के साथ छल करने के अपराध मे वर्तमान सरकार के नीति नियंताओं को जेल भेजने की मांग कान्स्टीट्यूशनली एकदम करेक्ट है." मेरी उपरोक्त पोस्ट पर एक समझदार कमेंट…

भारत छोड़ो आंदोलन की भावना कैसे हो पुनर्जीवित?

सन 1942 का भारत छोड़ो आंदोलन, जिसकी 75वीं वर्षगांठ हम इस वर्ष मना रहे हैं, भारत के स्वाधीनता संग्राम में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर था. सन 1942 के 8अगस्त को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की कार्यसमिति ने मुंबई के गोवालिया टैंक मैदान (जिसे अब…

हामिद अंसारी मोदी सरकार को कभी पसंद नहीं आए

उपराष्ट्रपति रहे हामिद अंसारी के भूतपूर्व होने के साथ उच्च संवैधानिक पद पर बैठा अंतिम धर्मनिरपेक्ष,अध्ययनशील ,खरा और निष्पक्ष व्यक्ति सरकार से विदा हो गया.वह डॉ़ राधाकृष्णन, ज़ाकिर हुसैन की परंपरा की लगता है आख़िरी कड़ी थे. देश के नये…

मोदी के गुजरात में दलितों का सामूहिक सामाजिक बहिष्कार

वायब्रेंट गुजरात के आनंद जिले के खम्भात तालुके का एक गाँव है फिणाव,जहाँ पर पिछले दो साल से 33 दलित बुनकर परिवारों का पूर्णत सामाजिक और आर्थिक बहिष्कार जारी है ,इस अमानवीय अन्याय के बारे में सत्ता ,नौकरशाही और दलित नेता सब शर्मनाक ढंग से…