Browsing Tag

अम्बेडकर

जितेन्द्र मेघवाल हत्याकांड का पर्दाफाश करती एक फैक्ट फाइंडिंग रिपोर्ट !

  जयपुर - 2 अप्रेल 2018 प्रचंड दलित आदिवासी आन्दोलन की चौथी सालगिरह पर राजस्थान के दलित एव मानव अधिकार संगठनों ने पाली जिले में विगत दिनों हुये जितेन्द्र कुमार मेघवाल हत्याकांड पर एक तथ्यान्वेषी रिपोर्ट जारी की है,27 पृष्ठीय इस

जवाबदेही कानून पास नहीं होने तक संघर्ष जारी रहेगा – अरुणा रॉय

ब्यावर पहुंची जवाबदेही यात्रा सूचना के अधिकार की अगली कड़ी है जवाबदेही कानून ये सरकारी अधिकारियों, कर्मचारियों और नेताओं को जवाबदेह बनाएगा - निखिल डे स्वामी कुमारानन्द, महात्मा गांधी और बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर

भीटा में अम्बेडकरवादियों का पुस्तकों से स्वागत !

भीलवाड़ा जिले की रायपुर पंचायत समिति की  भीटा ग्राम पंचायत के ग्राम सरेवड़ी ,भटेवर ,थोरिया खेड़ा,   भीलो का खेड़ा,  रूपा का खेड़ा,  दलित आदिवासी साथियों की मीटिंग बाबा रामदेव मंदिर में  न्यू अंबेडकर युवा संगठन ब्लॉक रायपुर रखी गई . बैठक

माणिक को मिली पीएचडी की उपाधि

27 अक्टूबर 2020 । मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय उदयपुर के हिंदी विभाग के शोधार्थी माणिक की चौदह अक्टूबर को विद्या वाचस्पति की उपाधि हेतु मौखिकी सम्पन्न हुई। 'हिंदी की दलित आत्मकथाओं में चित्रित सामाजिक मूल्य' विषय पर बीते साढ़े चार साल

क्या लोग बुद्ध, फूले या बाबा साहब की किताबों से डरे हुए हैं !

(संजय श्रमण )यह दिवस पुस्तकों के लिए नहीं है ताकि वे विश्व को पा सकें, बल्कि विश्व के लिए है ताकि वह पुस्तकों को पा सके। जब ज्योतिबा फूले ने किताबों से दोस्ती की तो उनके भीतर ज्योति उमगने लगी, उनका दीपक जलने लगा था। जब बाबा साहब ने पहली

बहुजन मिशन की समर्पित हस्ती है डीएन केराला

(मनोहर मेघवाल) आज एक बहुत महानतम् शख्सियत से कॉल पर वार्तालाप हुई, अनुभवों के खजाने से बात करके बहुत अच्छा लगा। उनका नाम डीएन केराला साहब है, जो पिछले वर्ष कांडला पोर्ट में इंडियन ऑइल कॉर्पोरेशन से वरिष्ठ फोरमैन के प्रतिष्ठित पद से

जम्मू कश्मीर में दलित अधिकारों की आवाज अनुपस्थित क्यों?

( प्रवीण कुमार अवर्ण ) जम्मू कश्मीर राज्य तीन क्षेत्रों से मिलकर बना हुआ है - जम्मू, कश्मीर और लद्दाख। जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक लागू होने के बाद ,नया जम्मू-कश्मीर अस्तित्व में आ सकता है। परन्तु अब तक यही जम्मू कश्मीर है। जम्मू

गाली को मिशन न बना,जाने दे !

(भंवर मेघवंशी )सोशल मीडिया एक दिन इस देश में गृह युद्ध करवा कर मानेगा,यह तय हो चुका है।इस आग में  घी डालने का काम गालीबाज मिशनरी कर रहे हैं,जिनको अपने अवगुण नहीं दिखते,अपने भीतर की बुराइयां नहीं नजर आती,वे अपनी कमजोरियों को दूसरों पर थोप

आज अंबेडकर को खुद अपने ही भक्तों से लड़ना पड़ेगा !

(डॉ.एम.एल.परिहार)बहुत कड़वा सच है यह लेकिन वास्तविकता को नकार नहीं सकते. दरअसल हमने अंबेडकर को अपने अपने हिसाब से गढ लिया है, अपने अपने सांचे में ढाल दिया है . जिसमें हमारा स्वार्थ सधता है उसी अंबेडकर को याद करते हैं. बाबासाहेब अंबेडकर ने

‘गाँधी,भगत सिंह,अंबेडकर के सपनों का भारत’ पर युवा संवाद !

(2 October 2019) 'गाँधी,भगत सिंह,अंबेडकर के सपनों का भारत और वर्तमान चुनोतियों में युवाओं की भूमिका और संविधान' पर आज 2 अक्टूबर को सीकर जिले की नीमकाथाना के प्रीतमपुरी में युवा संवाद आयोजित किया गया | युवा संवाद देश की स्वतंत्रता