tranny with big boobs fellating a hard cock.helpful site https://dirtyhunter.tube

योजनाओं के लाभ के लिए आम जन दर-दर खा रहा है ठोकरें

42

वन अधिकार के तहत फाइलें वर्षों से जमा लेकिन आज तक निपटारा नहीं  

जवाबदेही यात्रा पहुंची प्रतापगढ़ 

प्रतापगढ़, 1 जनवरी, 2022-जवाबदेही यात्रा आज 13वें दिन प्रतापगढ़ जिला मुख्यालय पहुंची। जहां पर यात्रा जिला कलेक्टर कार्यालय के बाहर सभा की .सभा के दौरान आदिवासी क्षेत्रों से आएं महिला पुरुषों ने अपनी समस्याएं रखी और अपनी समस्याओं को शिकायत पत्र पर दर्ज भी करवाया, उक्त शिकायतों को सरकार तक निस्तारण के लिए पहुंचाया जायेगा।


यात्रा के गांधी चौराहे पर पहुंचते लोगों ने जबरदस्त नारेबाजी को। यहां पर सभा हुई जिसमें सूचना एवं रोजगार अधिकार अभियान से जुड़े निखिल डे ने कहा कि आज हम हमारे छोटे छोटे काम के लिए घूमते रहते हैं और उसे कई वर्ष होने पर भी काम नहीं होता है। सरकार को चलाने और  सरकारी कर्मचारियों, अधिकारियों और जन प्रतिनिधियों की तनख्वाह हमारे पैसों से दी जाती तो हम क्यों अपने काम के लिए भटकते रहते है, उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारियों, अधिकारियों एवं जन प्रतिनिधियों की जवाबदेही तय होनी चाहिए।   

अभियान से जुड़े जवाहर सिंह ने सवाल उठाया कि वन अधिकार कानून के अन्तर्गत बहुत लोगों के दावे खारिज कर दिए गए हैं और  सामुदायिक वन अधिकार देने के लिए जो आवेदन किए हैं उनको भी खारिज कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि लोगों को आज तक सूचित नहीं किया गया है कि उनके दावे क्यों खारिज किए गए इसलिए हमको जवाबदेही चाहिए।

सभा को संबोधित करते हुए एडवोकेट अजय सक्सेना ने कहा कि सालों से लोग व्यक्तिगत वन अधिकार के दावे लेकर घूम रहे हैं और एक बार नहीं कई बार दावे जमा कर चुके हैं लेकिन उनके दावों पर कोई कार्यवाही नहीं होती है। कई फाइलें जिला कलेक्टर कार्यालय से वापस भेजी हैं लेकिन वे आज तक नहीं मिल रही हैं।

 
जन स्वास्थ्य अभियान से जुड़े डा. नरेंद्र गुप्ता ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि किसी भी व्यक्ति का जीवन स्वस्थ रहने से ही जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि सबसे पहले अच्छा पोषण चाहिए और उसके बाद यदि बीमार हो जाएं तो आधा किलोमीटर की दूरी पर अस्पताल होना चाहिए और और फिर मोटर से जाने पर एक घंटे में गंभीर बीमारियों के इलाज की व्यवस्था होनी चाहिए। इसके लिए सरकार ने बजट में घोषणा की कि स्वास्थ्य का अधिकार कानून बनाया जायेगा लेकिन आज तक नहीं लाया गया है। ऐसा लगता है कि सरकार जवाबदेही से बचना चाहती है। 


सामाजिक कार्यकर्ता मधुलिका ने कहा कि हमको ये तो पता चलना चाहिए कि हमारा काम कब तक हो जायेगा वो स्कूल का हो, नरेगा का हो, स्वास्थ्य का हो, थाने का हो, कोर्ट का हो, हम चक्कर पर चक्कर लगाते जाते है और काम है कि आगे खिसकता ही जाता है, हमें ये पता होना चाहिए कि हमारा इस तारीख तक काम पूरा हो जायेगा, इसलिए हमको जवाबदेही कानून चाहिए हर हालत में चाहिए। कई ऐसे उदाहरण है जो ये बताते है कि बिना जवाबदेही के काम ऐसे ही आगे खिसकते रहते हैं। सभा के दौरान शंकरसिंह,  धर्मचंद खैर, राजेंद्र शर्मा, कमल कुमार, पारस बंजारा आदि वक्ताओं ने अपने विचार रखें। 


 गांधी चौराहे से जिला कलेक्टर कार्यालय तक निकाली रैली

 गांधी चौराहे से जिला कलेक्टर कार्यालय तक रैली निकाली जिसमें सैकड़ों की संख्या में स्थानीय नागरिकों ने हिस्सा लिया। रैली में लगे जवाबदेही कानून बनाए जाने के बारे और जिला प्रशासन जवाबदेह बनो के नारे लगे।  

जिला प्रशासन एवं जिला कलक्टर के साथ हुई बैठक

जिला कलेक्टर प्रकाशचंद शर्मा की अध्यक्षता में बैठक हुई जिसमें अतिरिक्त जिला कलेक्टर एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों के भाग लिया तथा अभियान की ओर से निखिल डे, डा. नरेंद्र गुप्ता, जवाहर सिंह, जयेश जोशी, एडवोकेट अजय सक्सेना, मधुलिका, धर्मचंद खैर, राजेंद्र शर्मा, पारस बंजारा, मुकेश निर्वासित, मेहविश खान,एना, बालाजी, विनीत, जितेंद्र कुमार आदि उपस्थित थे। जिला कलेक्टर ने लगभग एक घंटे तक सभी को सुना और जो शिकायतें आईं उनको दर्ज  कर निश्चित समयसीमा में निपटारा करने का आश्वासन दिया। 


 जिला कलेक्टर को सौंपी शिकायतें

 जवाबदेही यात्रा में शिकायतों की जिम्मेदारी देख रहे बालाजी ने प्रतापगढ़ जिले में प्राप्त शिकायतों को जिला कलेक्टर को  सौंपा, अब ये शिकायतें सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के एसीपी द्वारा जवाबदेही यात्रा 2021 इवेंट में दर्ज की जाएगी।

 
 कल जवाबदेही यात्रा निंबाहेड़ा में

 कल जवाबदेही यात्रा चित्तौड़गढ़ जिले के निंबाहेड़ा में पहुंचेगी जहां पर रैली निकालकर सभा की जाएगी। 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

yenisekshikayesi.com