सावित्रीबाई फुले जयंती पर एडवा की विचार-गोष्ठी आयोजित

7

शिक्षित महिला ही बेहतर समाज का निर्माण कर सकती है- कीर्ति सिंह

सूचना-प्रौद्योगिक के साथ सामाजिक संरचना में नहीं हो पाए बङे बदलाव- एडवोकेट कांता राजपुरोहित 

अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति (एडवा) जोधपुर की ओर से देश की प्रथम शिक्षिका सावित्रीबाई फुले की जयंती पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।


एडवा की जिलाध्यक्ष नेहा के मेघवाल ने बताया कि इस अवसर पर आयोजित को संबोधित करते हुए बतौर मुख्य वक्ता कृषि मंडी की पूर्व चैयरमेन एवं कृषि विश्वविद्यालय की सिंडिकेट सदस्य कीर्ति सिंह भील ने कहा कि सावित्रीबाई फुले ने समाज की आधी-आबादी को शिक्षा के माध्यम से पितृसत्तात्मक सत्ता को चुनौती देते हुए पुरूषों के बराबर खड़ा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।बेहतर समाज के निर्माण में शिक्षित महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान है। हमारी जिम्मेदारी है कि महिलाओं को शिक्षा प्राप्त करने के लिए सदैव प्रोत्साहित करें।


इस मौके पर बोलते हुए एडवोकेट कांता राजपुरोहित ने कहा कि सूचना प्रौद्योगिक के इस युग में भी हमारी सामाजिक संरचना में बङे बदलाव नहीं हुए, वैज्ञानिक दृष्टिकोण वाली सामाजिक चेतना के अभाव में आधी आबादी के प्रति नजरिया नहीं बदला है अतः हमें समाज को प्रगतिशील दिशा में ले जाने हेतु लगातार प्रयास करने होगे।


विचार गोष्ठी में जायदा खान, सज्जो, राधा जोशी, चन्दा, सोनू, विमला देवी, कीर्ति राजपूरोहित सहित अनेक महिलाऐं मौजूद रही।

Leave A Reply

Your email address will not be published.