नवग्रह का हंस किताब का लोकार्पण 25 दिसम्बर को होगा 

82

भीलवाड़ा- निकटवर्ती रायला के समीपस्थ स्थित मोतीबोर का खेड़ा में स्थापित श्री नवग्रह आश्रम के संस्थापक हंसराज चौधरी की जीवनी पर आधारित पुस्तक ‘नवग्रह का हंस’ का लोकार्पण समारोह 25 दिसम्बर को गुलाबपुरा में होगा. गुलाबपुरा में बदनोरा जाट समाज के तत्वावधान में आयोजित मेवाड़ स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता के उद्घाटन मौके पर प्रदेश के राजस्व मंत्री रामलाल जाट व कृषि मंत्री लालचन्द कटारिया इस पुस्तक का लोकार्पण करेंगे.


लोकार्पण कार्यक्रम गुलाबपुरा के गांधी विद्यालय में 25 दिसम्बर शनिवार को प्रातः 11.15 बजे होगा.यह आयोजन बदनोरा जाट समाज हुरड़ा बनेड़ा के तत्वावधान में होगा जिसमें भीलवाड़ा, अजमेर, राजसमंद, चित्तोड़गढ़ व प्रतापगढ़ जिलों के जाट समाज के प्रतिनिधि शामिल होंगे.


कार्यक्रम में जाट महासभा के प्रदेश अध्यक्ष राजाराम मील, अजमेर डेयरी के चेयरमेन रामचंद्र चोधरी, चित्तौड़गढ़ डेयरी चेयरमेन बद्रीलाल जाट सहित अन्य कई समाज के प्रशासनिक अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहेंगे.


देश के प्रख्यात पत्रकार व सामाजिक कार्यकर्ता भंवर मेघवंशी द्वारा लिखित इस पुस्तक में हंसराज चौधरी के सभी पहलुओं को लिया गया है. 136 पृष्ठ की पुस्तक का प्रकाशन रिखिया प्रकाशन की ओर से किया गया है.

 
इस पुस्तक की भूमिका प्रख्यात संगीतकार हरीश पंवार ने लिखी है. पंवार के मुताबिक हंसराज मानव मात्र की सेवा में असीम सुख की अनुभूति करता है,वरना राज्य सरकार की आरामदायक नौकरी छोड़कर सेवा के कंटकाकीर्ण मार्ग पर अकेला न निकल पड़ता.हंसराज चौधरी ने जीवन में विभिन्न रंगों को जिया है. इस पुस्तक में उन्ही पहलुओं को लिया गया है.


पुस्तक में केदारनाथ त्रासदी,सगडोलिया जाटों की उत्पति, विद्यार्थी जीवन, उनका रचना संसार, ओशो के रंग में , सरकारी सेवा, राजनीति की राह, आश्रम की स्थापना, बेमिसाल हंस परिवार सहित विभिन्न अध्याय शामिल किये गये है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.