tranny with big boobs fellating a hard cock.helpful site https://dirtyhunter.tube

वैसे रिश्ते में तो हम आपके जूनियर लगते है !

380

किरोड़ीमल कॉलेज के एक छात्र का अमिताभ बच्चन के नाम पत्र !

प्रिय अमित सर,
कैसे हो, मुझे पहचाना ??
मेरा और आपका बहुत गहरा सम्बन्ध है,पहला तो ये कि मैं उसी किरोड़ी मल कॉलेज से पढ़ा हूँ , जिससे आप पढ़े हो, सबसे खास सीनियर हो आप हमारे.अमिताभ बच्चन के नाम से किरोड़ी मल में एक अलग ही फीलिंग आती है और दूसरा ,हम एक ही हिन्दी माँ के बेटे है ,हरिवंश बापू भी माँ बोली हिंदी के ही प्रेमी थे , तो हमारी “मोहब्बतें” भी किसी “सूर्यवंशम” से कम नहीं है.

हमारे लिए इससे बड़ी क्या ख़ुशी होगी कि हमारे एक लम्बू सीनियर और हिंदी माँ के अग्रज भ्राता यानि आप को सदी का महानायक कहा जाता है,आपने अपनी फिल्मो के माध्यम से और अब सरकार की एड करके भारतीयों को जीने का नया रंग – ढंग दिया है ,आप जब भी कोई नेक काम करते हो तो हम बडा प्राउड फील करते है .

मैं जानता था कि आपके पिताजी हरिवंश बाबू बहुत अच्छे और महान कवि थे ,उनकी मधुशाला भी पढ़ी है मैंने , किसी से मांगकर और भी एक दो कृतिया पढ़ी जो मुझे आसानी से उपलब्ध हुयी ,मगर जिस आधुनिकता में हम जी रहे है उसमे यह कतई संभव ना था कि हमे बापूजी की रचनाये देखने को भी मिलेगी ,ऐसे में कुछ कवि ऐसे भी उठ खड़े हुए जो बापूजी को हम तक पहुंचा रहे है, इसीके तहत कई कवियों ने बच्चन साहब की रचनाओं को अपनी आवाज़ में प्रसारित किया.

कल अचानक खबर पढ़ी कि आपने हिंदी जबान के ही एक और बेटे कुमार विश्वास को नोटिस दिया और बापूजी की कविता पर एकाधिकार दिखाते हुए उनसे सोशल मीडिया से वह वीडियो हटाने का भी आदेश दिया है .अपने पिता पर एकाधिकार की कोशिस तो ठीक हो सकती है ,मगर एक कवि पिता पर असली अधिकार तो उस भाषा के लोगों का भी होता है .

अमित जी,आप भी हिंदुस्तानी जबान के कायल है, हिंदी की इज़्ज़त हो ये कौन भारतीय नही चाहेगा.दिनों दिन हिंदी वैश्विक हो ये आपका भी शायद सपना होगा , पर जो आपने कुमार विश्वास के साथ किया है ,यह कहाँ का भाषा प्रेम है, हर महान कवि का वंशज चाहेगा कि उनके पुरखों की रचना और यादें विस्तारित हो ..और रही बात कमाई की तो अगर यह कमाई है तो आपने भी एक्टिंग करके ही कमाई की है.

नुकसान तो उस हर कवि गायक को हुआ है जो अपने गुरु की वाणी को गुनगुनाकर अपने गुरु और अपनी बोली का विस्तार करना चाहता है. ये मामला आपके पिताजी का ज़रूर है पर हमारा भी अपना मामला है क्योंकि आप बापूजी के जैविक पुत्र हो हम उनके मानसपुत्र है .

भविष्य में आपसे और भी नेक कामो की उम्मीद है.अमित जी आप देश हित में लगे रहिये हम आपके साथ है.एक बार केएमसी जरूर आना,सभी बहुत वेट कर रहे है.आपके अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूँ.

वैसे रिश्ते में तो हम आपके जूनियर लगते है.
नाम है हैप्पीशा……

( हैप्पी सिंह की टाइमलाइन से )

Leave A Reply

Your email address will not be published.

yenisekshikayesi.com