सामाजिक समानता के लिये दलित युवाओं की अनूठी पहल

269

गोटन में बाबा साहब के मिशन से जुड़े मिशनरी युवा महेंद्र वाल्मिकी पुत्र गुलाब जी गुजराती व महावीर जमेरिया ने इस बार हजारों वर्षों से अनुसूचित जाति के वाल्मीकि व अन्य मेघवाल,बावरी,रेगर,नायक समाज की आपसी छुआछूत को खत्म करने के लिए गुलाब गुजराती के निवास पर सामूहिक स्नेह भोज का आयोजन किया.

इस आयोजन का निमन्त्रण व्हाट्सएप व सोशल मीडिया के माध्यम से स्थानीय स्तर पर बाबा साहब के नाम पर बने ग्रुप में भेजे गये जिसके प्रतिउत्तर में समाज के जाति व्यवस्था के मुखालफत करने वाले जागरूक बाबा साहब के सच्चे मिशनरी व्यक्तियो ने छोटे भाई महेंद्र वाल्मीकि के आमन्त्रण को स्वीकार करते हुए एकत्र हो कर इस स्नेह भोज में शामिल हो कर वाल्मीकि परिवार की हौसला आफजाई की.

स्नेह भोज में गोटन के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ सुखराम बेरवाल , युवा नेता पांचाराम इन्दावड, कालेज व्याख्याता रामेश्वर लाल जमेरिया,श्रवण कुमार जमेरिया, शिक्षक रामप्रसाद जमेरिया, मंछाराम जमेरिया,बाबूलाल जमेरिया,जेठाराम जमेरिया,हरसोलाव से सुंदरलाल रेगर,विक्रम बावरी ,अनाराम खेमादा, गणपत खेमादा,सज्जन चांगरा,राकेश वाल्मीकि ,दीनाराम डूकिया,महेंद्र डूकिया,रामेश्वर खेमादा,सुशील खेमादा, पवन खेमादा ,परसाराम डूकिया,श्रवण खेमादा रामभरोस डूकिया,पंकज रॉयल आदि शामिल हुए.

गन्दे काम नही करने की शपथ दिलाई !

कार्यक्रम के पश्चात वाल्मीकि परिवार को सभी लोगो ने मरे जानवर नही उठाने,घर घर भीख नही मांगने ,शराब नही पीने गटर की सफाई नही करने की शपथ दिलाई ताकि कोई उनके साथ भविष्य में छुआछूत नही करे का भरोसा दिलाया। एक ही जाति को इस काम का ठेका दे रखा हैं जो निंदनीय है,सभी स्वच्छ भारत मे स्वंय अपना योगदान दे.हम इसके समर्थन में है.

( रामेश्वर लाल जमेरिया की फेसबुक पोस्ट )

Leave A Reply

Your email address will not be published.