आम जन का मीडिया
The creation of the Spic Macke Heritage Club in Bassera

बसेड़ा में स्पिक मैके हेरिटेज क्लब का गठन

बसेड़ा के चौदह विद्यार्थी इंटरनेशनल कन्वेंशन में जाएंगे पश्चिमी बंगाल

बसेड़ा(छोटीसादड़ी) 9 मई, 2018 युवाओं में भारतीय शास्त्रीय संगीत और संस्कृति के संवर्धन हेतु बीते चालीस साल से संचालित छात्र सहभागी सांस्कृतिक आन्दोलन स्पिक मैके अब अपनी गतिविधियाँ बसेड़ा में आरम्भ कर रहा है। प्रतापगढ़ जिले की छोटी सादड़ी तहसील में हेरिटेज क्लब ऑफ़ बसेड़ा का गठन नौ मई को राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय बसेड़ा में उपखंड अधिकारी दिनेश चन्द्र मंडोवरा के मुख्य आतिथ्य में हुआ। इस मौके पर क्लब का अध्यक्ष प्रधानाचार्य प्रभु दयाल कूड़ी और संयोजक हिंदी व्याख्याता माणिक को मनोनीत करके आई डी कार्ड पहनाए गए। क्लब के सदस्य के रूप में कक्षा दस से बारह के विद्यार्थी चुने गए। इस मौके पर अतिथियों ने स्पिक मैके आन्दोलन के आगामी इंटरनेशनल कन्वेंशन का पोस्टर भी विमोचित किया। यह क्लब अब वर्षभर संगीत, सिनेमा, सामाजिक सेवा और पर्यावरण से जुड़े आयोजन सहित नेचर वॉक, हेरिटेज वॉक, टॉक आदि की गतिविधियाँ संचालित करेगा।

मनोनीत क्लब के संयोजक माणिक ने बताया कि स्पिक मैके का छठा इंटरनेशनल कन्वेंशन आगामी तीन से नौ जून तक आईआईटी खड़गपुर में होगा। इस वैश्विक सांस्कृतिक महोत्सव में विश्वभर के दो हज़ार चयनित साथी हिस्सा लेंगे। अधिवेशन के लिए बसेड़ा स्कूल के चौदह विद्यार्थी भी चयनित हुए हैं इससे विद्यालय परिवार में खुशी की लहर है। यह सोलह सदस्यीय दल अपनी ग्यारह दिवसीय शैक्षणिक यात्रा में खड़गपुर के अलावा कोलकाता के भ्रमण पर रहेगा। चयनितों में अर्जुन मेघवाल, बबली धोबी, गुणवंत मेघवाल, उर्मिला मेघवाल, पुष्कर आंजना, ममता मीणा, पवन आंजना, पूजा प्रजापत, कारू लाल आंजना, चर्चित तिवारी, विपुल मीणा, कुलदीप टांक, कोमल आंजना और दीपक राव सम्मिलित हैं।स्पिक मैके के राष्ट्रीय सलाहकार माणिक के अनुसार दक्षिणी राजस्थान के दस जिलों से लगभग पचास साथी खड़गपुर कन्वेंशन जा रहे हैं।

हेरिटेज क्लब के अध्यक्ष प्रभु दयाल कूड़ी ने कहा कि यह एक ज्ञानवर्धक और जीवन में गहरी अनुभूति देने वाली शैक्षणिक यात्रा होगी जो विद्यार्थियों के जीवन में बड़ा बदलाव करेगी। सात दिवसीय आश्रमनुमा जीवन में ये बच्चे योग, ध्यान, शास्त्रीय नृत्य, लोक कला, थिएटर, क़व्वाली, सिनेमा, क्राफ्ट आदि क्षेत्र से जुड़े विश्व विख्यात कलाकारों की संगत में रहेंगे। यहाँ प्रतिभागी विभिन्न हस्तकलाओं और गायन-वादन की विविध विधाओं को सीखेंगे। हेरिटेज क्लब गठन के इस सत्र का संचालन इतिहास विषय व्याख्याता प्रेमाराम कुमावत और हिंदी के वरिष्ठ अध्यापक सीएल मीणा ने किया।

-माणिक

(संयोजक-हेरिटेज क्लब ऑफ़ बसेड़ा )

Leave A Reply

Your email address will not be published.