Browsing Tag

दलित

आरक्षित सीटों पर चौधराहट की नयी पेशकश !

(भंवर मेघवंशी)  नागौर जिले की मेड़ता रिजर्व सीट से भाजपा और कांग्रेस ने नया प्रयोग किया है,इस नवाचार में भाजपा व कांग्रेस से जो प्रत्याशी बने है,वे पूना पैक्ट की सबसे कमजोर औलादों का जीवंत उदाहरण है । भाजपा ने अपने वर्तमान विधायक सुखराम…

विधानसभा चुनाव 2018: इस बार किधर जाएंगे दलित आदिवासी मतदाता ?

(भंवर मेघवंशी) साढ़े चार साल तक संगठित रहने की बात कहने वाले अनुसूचित जाति व जनजाति वर्ग के मतदाताओं की सबसे बड़ी विडंबना यह है कि चुनाव नजदीक आते ही वे बिखरने लग जाते है,जबकि अन्य समुदाय साढ़े चार साल झगड़ते है और चुनाव से 6 माह पहले एक…

दलित महिलाओं का ऐतिहासिक महासमागम !

दलित अधिकार केन्द्र जयपुर, दलित महिला मंच, राजस्थान व एक्शनएड जयपुर के संयुक्त तत्वाधान में दिनांक 4-5 अक्टूबर 2018 को पास्टल सोशल सेन्टर, मदार, अजमेर में राज्य स्तरीय ‘‘दलित महिला महा समागम‘‘ का ऐतिहासिक आयोजन किया गया। उद्घाटन भाषण में…

दिसम्बर में होगा आर्थिक आजादी का महोत्सव ‘भीम बिजनेस एक्सपो’

(डॉ.एम.एल.परिहार) भीम बिजनेस एक्सपो, जयपुर 22--24 दिसंबर,2018 आर्थिक आजादी का महोत्सव ● इस बार विशाल रूप में उमंग, उल्लास व उत्साह के साथ । ● प्रतिभाशाली कामयाब बहुजन उद्यमियों ,बिजनेस एक्सपर्ट्स व बिजनेस के हुनर सिखने वाले…

इस दौर का ईमानदार युवा पत्रकार ,जिसे अब रंगदार बना दिया गया है !

वैसे भी मीडिया में दलित, आदिवासी एवं घुमन्तु जैसे वंचित वर्गों से गिने चुने पत्रकार ही आते है। लेकिन जब वे अपनी ईमानदारी व बेबाकी से मीडिया में अपना अलग स्थान बनाने लगते है तो सम्पन्न व सक्षम वर्ग के लोग वंचित वर्ग के पत्रकारों का दमन करने…

क्या हम देश छोड़ दे ???

-नीरज बुनकर सभी लोकतंत्र के झंडा-बरदारो, सामाजिक न्याय के रक्षको, इस देश की सरकार से हम पुछना चाहते है कि, क्या लोकतंत्र में ''जिसकी लाठी उसकी भैंस '' जायज़ है ? क्या मत्स्य न्याय इसकी प्राणवाहिकाएँ ? क्या अभी भी सामाजिक सोपान पर नीचे…

भारत के दलितों के पास ज़मीनें क्यों नहीं हैं ?

कभी ध्यान दिया है कि भारत के दलितों के पास ज़मीनें क्यों नहीं हैं ?भारत के अस्सी प्रतिशत दलित भूमिहीन हैं.ये एक एतिहासिक प्रक्रिया के कारण हुआ है.दलित भारत के मूल निवासी थे.आर्यों ने भारत में आकर मूल निवासियों के साथ युद्ध किये.मूल निवासियों…

शुक्रिया उनका, जिन्होंने दलितों को मंदिर जाने से रोका !

हमीरपुर के उन लोगों को धन्यवाद दिया जाना चाहिये जिन्होंने दलितों के मंदिर प्रवेश पर रोक लगा दी.धर्मानुसार शुद्र/दलितों को धामिर्क संस्कारों में भाग लेना वर्जित है.दलित केवल दास/सेवक/गुलाम ही बन सकता है.हिन्दू धर्म के अनुसार दलितों को पशुओं…

दलित महिला का अपहरण कर हत्या

राजस्थान के गांव मऊ तहसील श्री माधोपुर जिला सीकर में दलित महिला का अपहरण कर हत्या के बारे में स्थानीय दलित व मानवाधिकार कार्यकर्ता से प्राप्त जानकारी को ह्यूमन राइटस ला नेटवर्क ने गंभीरता से लिया है . ह्यूमन राइट्स ला नेटवर्क की ओर से…