Browsing Tag

डॉ.परिहार

यदि हम उन्हें सिर्फ कोसते रहेंगे,तो वे दसों दिशाओं शासक होंगे,और हम सिर्फ मजदूर !

(डॉ.एम.एल. परिहार )आज बहुजन समाज भारी संकट के दौर में हैं. न सरकारी नौकरी, न खेती ,न व्यापार और न राजनीतिक सत्ता. ऐसे मुश्किल समय में भी यदि हम किसी प्लानिंग के साथ आगे बढने की बजाय सिर्फ दूसरी जातियों को कोसते रहेंगे तो हमें फिर से उनके