Browsing Tag

अम्बेडकर

बहुजन मिशन की समर्पित हस्ती है डीएन केराला

(मनोहर मेघवाल) आज एक बहुत महानतम् शख्सियत से कॉल पर वार्तालाप हुई, अनुभवों के खजाने से बात करके बहुत अच्छा लगा। उनका नाम डीएन केराला साहब है, जो पिछले वर्ष कांडला पोर्ट में इंडियन ऑइल कॉर्पोरेशन से वरिष्ठ फोरमैन के प्रतिष्ठित पद से

जम्मू कश्मीर में दलित अधिकारों की आवाज अनुपस्थित क्यों?

( प्रवीण कुमार अवर्ण ) जम्मू कश्मीर राज्य तीन क्षेत्रों से मिलकर बना हुआ है - जम्मू, कश्मीर और लद्दाख। जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक लागू होने के बाद ,नया जम्मू-कश्मीर अस्तित्व में आ सकता है। परन्तु अब तक यही जम्मू कश्मीर है। जम्मू

गाली को मिशन न बना,जाने दे !

(भंवर मेघवंशी )सोशल मीडिया एक दिन इस देश में गृह युद्ध करवा कर मानेगा,यह तय हो चुका है।इस आग में  घी डालने का काम गालीबाज मिशनरी कर रहे हैं,जिनको अपने अवगुण नहीं दिखते,अपने भीतर की बुराइयां नहीं नजर आती,वे अपनी कमजोरियों को दूसरों पर थोप

आज अंबेडकर को खुद अपने ही भक्तों से लड़ना पड़ेगा !

(डॉ.एम.एल.परिहार)बहुत कड़वा सच है यह लेकिन वास्तविकता को नकार नहीं सकते. दरअसल हमने अंबेडकर को अपने अपने हिसाब से गढ लिया है, अपने अपने सांचे में ढाल दिया है . जिसमें हमारा स्वार्थ सधता है उसी अंबेडकर को याद करते हैं. बाबासाहेब अंबेडकर ने

‘गाँधी,भगत सिंह,अंबेडकर के सपनों का भारत’ पर युवा संवाद !

(2 October 2019) 'गाँधी,भगत सिंह,अंबेडकर के सपनों का भारत और वर्तमान चुनोतियों में युवाओं की भूमिका और संविधान' पर आज 2 अक्टूबर को सीकर जिले की नीमकाथाना के प्रीतमपुरी में युवा संवाद आयोजित किया गया | युवा संवाद देश की स्वतंत्रता

अनुच्छेद- 370 : अर्धसत्यों की भरमार !

( राम पुनियानी ) भारत सरकार ने कश्मीर के लोगों की राय जानने की प्रजातांत्रिक कवायद किए बगैर अत्यंत जल्दबाजी में संविधान के अनुच्छेद 370 और 35ए के संबंध में निर्णय लिया है। जम्मू-कश्मीर राज्य अब दो केन्द्र शासित प्रदेशों में बंट गया है।

कब तक मन्दिरों के लिये लड़ते रहोगे ?

कल चित्तौड़गढ़ जाना हुआ,संत कवि रैदास का नाम जिस किले और मीरां से जुड़ा हुआ है,उसकी तलहटी में खड़ा हो कर सोचता रहा कि कैसा रहा होगा सदियों पुराना समाज ? क्या व्यवस्था या अव्यवस्था रही होगी ? कैसे रविदास (रैदास) जैसे क्रांतिदर्शी संत उस

दलित वर्ग द्वारा संगोष्ठी का आयोजन !

बूंदी,11 जून 2019) अनुसूचित जाति-जनजाति के लोगों की दलित अत्याचार को लेकर मंगलवार दोपहर बाद कृष्णा होटल में संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें जिले भर के अनुसूचित जाति जनजाति के कर्मठ कार्यकर्ताओं ने भाग लिया I डॉ.भीमराव…

जो अंबेडकर की मूर्ति से घृणा करते है,वे अंबेडकर को पढ़ेंगे,तो नमन करेंगे !

(डॉ.एम.एल.परिहार)   आज बहुजन समाज गली गली में अंधाधुंध अंबेडकर की मूर्तियां खड़ी कर अपनी परेशानियों के जाल खुद तैयार कर रहा है.बाबासाहेब नायक पूजा (hero worship)के सख्त खिलाफ थे ,उन्हें यह कभी अच्छा नहीं लगता था कि उनके प्रशंसक उनका…

संविधान की प्रदर्शनी लगाकर बच्चो को समझाया संविधान का महत्व !

(जयपुर 30 मई 2019) बाबा हरीश चन्द्र मार्ग,विक्रम बाल निकेतन विद्यालय में वर्गो सांस्कृतिक संस्था की और से ग्रीष्म कालीन अवकाश में  बच्चों के लिए चलाए जा रहे कला अभिरुचि  शिविर में आज संवैधानिक अधिकार संगठन की और से संविधान से सम्बंधित…