13 प्वाइंट रोस्टर की जगह 200 प्वाइंट रोस्टर अध्यादेश की मांग को लेकर ज्ञापन

8

(शाहपुरा,6 फरवरी )-

शाहपुरा के एससी-एसटी, ओबीसी वर्ग के संयुक्त तत्वाधान में बुधवार को राष्ट्रपति व केंद्रीय मानव विकास संसाधन मंत्री के नाम एसडीएम राजेंद्र सिंह चान्दावत को ज्ञापन सौंपकर 13 प्वाइंट रोस्टर को समाप्त कर 200 प्वाइंट रोस्टर अध्यादेश लागू करने की मांग की।

एससी समाज से पूरणमल बुनकर, एसटी समाज से संदीप मीणा,ओबीसी समाज से चतरभूज यादव,संतोष कुमावत, शंकर लाल जाटावत,उदावाला सरपंच राधेश्याम बुनकर,खेमराज वर्मा, शिम्भूदयाल वर्मा,गजानंद नारनोलिया सहित अन्य ने सौंपे ज्ञापन में बताया कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के 5 मार्च 2018 के आदेश के बाद विश्वविद्यालय ने 13 प्वाइंट रोस्टर लागू कर दिया। इससे एससी, एसटी, ओबीसी वर्ग के हितों की अनदेखी हो रही है। इससे सभी वर्गों के विद्यार्थियों में आक्रोश पैदा हो रहा है।

ऐसे में 13 प्वाइंट रोस्टर को समाप्त कर 200 प्वाइंट रोस्टर अध्यादेश को शीघ्र लागू किया जाए।

एससी वर्ग से पूरणमल बुनकर ने राष्ट्रपति से मांग की है कि शीघ्र अध्यादेश लाकर पूर्व की भांति विश्वविद्यालय भर्ती में 200 प्वाइंट रोस्टर को लागू किया जाए, जिससे अनुसूचित जाति,जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों को पहले की तरह लाभ मिल सके। इस निर्णय से एससी-एसटी,ओबीसी समाज में असुरक्षा की स्थिति पैदा हो रही है, जिसे शीघ्र दूर किया जाए।

ओबीसी वर्ग से चतरभूज यादव व संतोष कुमार कुम्हार ने कहा कि लागू की गई नई रोस्टर प्रणाली के तहत वंचित समाज के छात्र छात्राओं को बड़ा नुकसान होगा। आरक्षण के साथ किसी प्रकार की छेड़छाड़ नहीं होनी चाहिए अगर सरकार इस प्रकार आरक्षण में छेड़छाड़ करती रही तो भविष्य में गंभीर परिणाम होंगे।

एसटी वर्ग से युवा नेता संदीप मीणा  ने कहा कि सरकार वंचित समाज के साथ पूरी तरह से भेदभाव पूर्ण रवैया अपना रही है जो की असंवैधानिक है अतःशैक्षिक पदों के 200 पॉइंट वाली रोस्टर प्रणाली पुन: बहाल करने की मांग की है।

ज्ञापन देने वालों में मनोज गोठवाल,अक्की वर्मा,नवरत्न चावला,जितेंद्र वर्मा,जतिन वर्मा, मुकेश ब्रजवाल,योगेश वर्मा, मोहित चोपडा,अभिषेक,विजय चोपडा,रामजीलाल सैन आदि मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.