टोगड़ा-टोगड़ी की शादी की चिंता, लेकिन कुंआरों की फौज खड़ी है !

गौमाता के बच्चों की शादी !

140

(डॉ.एम.एल.परिहार)
——————————
मेघवाल समाज आए दिन दूसरी जातियों को कोसते रहता हैं लेकिन कड़वी सच्चाई यह है कि हमारी अशिक्षा, गरीबी व दरिद्रता के लिए काफी हद तक हम खुद ही जिम्मेदार हैं।
मेघवाल समाज ने कुरीतियों से मानो गहरा रिश्ता बना दिया है,गहना बना दिया है। विडंबना यह है कि सामाजिक व धार्मिक कुरीतियों को बढावा देने में हमारे कथित पढे लिखे लोग ज्यादा आगे है।जिन्हें अंधविश्वास का अंधेरा मिटा कर ज्ञान का उजियारा फैलाना था वे समाज को रसातल में धकेलने में जरा भी संकोच नहीं कर रहे हैं।
इन दिनों पाली जिले में गांव गांव में रामदेव मंदिर में मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा हो रही हैं यानी इस वैज्ञानिक युग में पत्थरों में प्राण डालने के मूखर्तापूर्ण आयोजन हो रहे हैं. बाबासाहेब ने बर्बादी के इन कर्मकांडों से बाहर निकालने के लिए अपना जीवन बलिदान कर दिया लेकिन हम इनसे बाज नहीं आ रहे हैं।
गरीब लोग गहने, जमीन बेच कर ,कर्ज लेकर मंदिर बनवाते है ,सोने का कलश चढाते है .फिर तपती गर्मी में भोज करते है जिसमें सिर्फ अव्यवस्था का ही आलम रहता है। स्कूल छुड़वा कर बच्चियों से रूपये लेकर गंगाजल से कलश भरवाते है।
बात यहीं तक नहीं रूकती है टोगड़ा टोगड़ी की शादी के बिना इनका आयोजन अधूरा रहता है। बाकायदा बारात, फेरे जिमण सबकुछ होता है। समाज में रोजगार की कमी व नशे की लत के कारण कुंवारे युवाओं की फौज खड़ी है लेकिन मेघवालों को गोमाता की संतानों की शादी की चिंता ज्यादा है।
कल तक की मारवाड़ की पिछड़ी जातियां अपने हुनर से निरंतर सामाजिक आर्थिक तरक्की की ओर बढ रही हैं जबकि हमने अपनी बर्बादी की कंटीली बाड़ खुद ही बना ली है।
यदि आप शिक्षित हैं और समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी महसूस करते हैं तो साहब चुप मत रहिए, समाज को जाग्रत करने के लिए बोले, कुछ लिखे, अनपढ भोले गरीबों को समझाएं। अधिक लोगों की खुशहाली के लिए कुछ रूढिवादी लोगों की नाराजगी की चिंता नहीं करें। हमारी चुप्पी व सजन्नता समाज को ले डूबेगी।हमारी शिक्षा की सार्थकता इसी मे है कि हम समाज में बदलाव लाए। यदि हम चाहे तो समाज को बदल सकते हैं, हममें वो क्षमता है, बस उस शक्ति को सृजनात्मक दिशा में उपयोग में लाने की जरूरत है। समाज में खुशियां बांटों, दुख नहीं।
सबका कल्याण हो 

 

-(डॉ.एम.एल.परिहार)

Leave A Reply

Your email address will not be published.