आम जन का मीडिया
Is this Dalit Love of bjp MP CP Joshi?

क्या यही है भाजपा सांसद सी पी जोशी का दलित प्रेम ?

दलित के घर बना भोजन ठुकरा कर दलित परिवार का अपमान करने का आरोप

( चित्तोडगढ के सांसद सी पी जोशी द्वारा एक दलित के घर खाना बनवा कर उसे नहीं खाने की बात सोशल मीडिया पर जबरदस्त वायरल हो रही है ,सांसद और भाजपा की तरफ से अभी तक इसका खंडन नहीं किया गया है )

25 अप्रेल 2018 को चित्तोडगढ़ के सांसद सी.पी. जोशी ने निम्बाहेड़ा तहसील की गादोला पंचायत के अंतर्गत आने वाले अरनिया माली गांव में रात्रि चौपाल लगाने व दलित परिवार के साथ भोजन करने का कार्यक्रम बनाया। अरनिया माली गांव के ही दलित गोपीलाल रेगर को सांसद महोदय की मेजबानी करने के लिए सांसद महोदय के साथियो व भाजपा कार्यकर्ताओ ने चुना। गोपीलाल रेगर ने इसे अपनी सौभाग्य मानते हुए व भारत की अथिति देवो भवः परंपरा का पालन करते हुए अपनी आर्थिक हैसियत को भी पार कर स्वयं के स्तर से सांसद महोदय व उनके साथियों के लिए भोजन की सारी व्यवस्था की।

पर उस परिवार सहित पूरे गांव को आश्चर्य तब हुआ ,जब एन वक्त पर सांसद की पार्टी की दलित विरोधी विचारधारा उनके दिमाग मे प्रकट हो गई और सांसद सहित सभी लोगों ने चुपचाप व्यवस्थाओं को बदलते हुए गोपीलाल रेगर के घर पर बना खाना नहीं खा कर गांव के ही पिछड़े वर्ग(ना कि दलित) के एक परिवार के घर पर बना भोजन ग्रहण करने का निर्णय ले लिया। आनन-फानन में दूसरे परिवार ने सभी व्यवस्थाए की और सभी ने दलित के घर भोजन ग्रहण ना करते हुए दूसरे घर पर भोजन किया।

इस व्यवस्था परिवर्तन से गोपीलाल रेगर का परिवार काफी आहत हुआ और अब पूरा परिवार स्वयं को अपमानित महसूस कर रहा है। गोपीलाल रेगर से जब समाजजनों व भाजपा के कार्यकर्ताओं ने सम्पर्क किया तो उसने कहा कि सांसद महोदय व भाजपा के इस अपमानित करने वाले फैसले ने उसे गांव व समाज में मुँह दिखाने लायक नहीं छोड़ा है।

जब सांसद जोशी को गोपीलाल रेगर की नाराजगी का पता चला तो उन्होंने डेमेज कंट्रोल करने के लिए उसके घर सुबह चाय पीने का कार्यक्रम बनाया, पर गोपीलाल रेगर के जले पर नमक तब पड़ गया,जब सांसद महोदय के लिए चाय भी गांव के स्कूल से बनवा कर मंगवाई गई।

इस पूरे मामले से गांव के लोगो मे एक चर्चा शुरू शुरू हो गई जिसके मुख्य बिंदु इस प्रकार है…सांसद महोदय व भाजपा कार्यकर्ताओ की इस ओछी विचारधारा को क्या नाम दिया जाए? क्यो सांसद महोदय व भाजपा ने सुख-शांति का जीवन जी रहे गोपीलाल रेगर के परिवार को पूरे गांव व समाज के सामने अपमानित किया? क्या यही है भाजपा और उसके सांसद सीपी जोशी का दलित प्रेम?

Leave A Reply

Your email address will not be published.