बजरी माफिया ने किया सामाजिक कार्यकर्ता पर जानलेवा हमला !

149

(मांडलगढ़।  3 अक्टूबर 2018)

मांडलगढ़ विधानसभा क्षेत्र के थलखुर्द गांव में सामाजिक कार्यकर्ता नन्दलाल गुर्जर पर मांडलगढ़ पंचायत समिति के सदस्य, थलकलां सरपंच पति, भीलवाड़ा डेयरी डायरेक्टर एवं पूर्व उप प्रधान भैरूलाल जाट और गोपाल पिता देबीलाल निवासी थलखुर्द ने दिनांक 2 अक्टूबर 18 को सुबह नन्दलाल गुर्जर के घर के बाहर जानलेवा हमला किया, जिससे नन्दलाल गुर्जर के दाएं पैर में फ्रेक्चर हो गया जिसका उपचार मालू हॉस्पिटल भीलवाड़ा में करवाया गया। आरोपी पूर्व उप प्रधान भैरूलाल जाट एवं गोपाल पिता देबीलाल निवासी थलखुर्द दोनों ही अवैध रूप से थलखुर्द गांव में अवैध बजरी खनन कर रहे हैं, दोनों ही अवैध बजरी खनन कारोबारी है। दोनों आरोपियों ने सामाजिक कार्यकर्ता नन्दलाल गुर्जर पर यह कहते हुए हमला किया कि ‘नन्दलाल तू हमारे अवैध रूप से संचालित बजरी स्टोको को बंद करवाना चाहता है’ । दोनों आरोपियों ने हमले से पूर्व आधी रात को नन्दलाल गुर्जर को फोन करके धमकी दी कि नन्दलाल तेरे पैर को तोड़कर ही हम दम लेंगे, जो कल पैर तोड़कर ही दम लिया। दोनों आरोपी हर दिन क्षेत्र से 200 गाड़ियां बजरी की अवैध रूप से निकालते है और यह सारा खेल आरोपी अपनी उच्च राजनीतिक पहुंच एवं दबंगई दिखाकर अवैध बजरी खनन कर रहे हैं, यह दोनों आरोपी मांडलगढ़ तहसील के सबसे बड़े अवैध बजरी खनन माफिया है। नन्दलाल गुर्जर ने अपने ऊपर हुए जानलेवा हमले की रिपोर्ट पुलिस थाना काछोला में थानाप्रभारी को दिनांक 2 अक्टूबर को ही दर्ज करवा दी है। अभी भी दोनों आरोपी अपनी उच्च राजनीतिक पहुंच और दबंगता के कारण खुले आम घूम रहे है, अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है। अगर आरोपी खनन माफिया दोनों की गिरफ्तारी नहीं होती है तो सामाजिक कार्यकर्ता नन्दलाल गुर्जर भीलवाड़ा जिला कलेक्टर मुख्यालय पर सोमवार से अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल पर बैठेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.