नर्सिंग कॉलेज के छात्र की मौत के जिम्मेदार प्रिंसिपल को गिरफ्तार करने की मांग-बुनकर

361

आठ माह पूर्व ग्लोबल नर्सिंग कॉलेज आबूरोड जो कि ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय संस्था द्वारा संचालित है जिसमे बीएससी द्वितीय वर्ष में अध्यनरत छात्र रविंद्रकुमार पुत्र श्री मुकनारामसोलंकी ने कॉलेज प्रिंसिपल गीतावेणुगोपाल व डायरेक्टर मिड्डा द्वारा निर्धारित फीस से दुगुनी फीस वसूलना तथा जातिगत दुर्भावना से जानबूझकर उसे इन्टरशिप एग्जाम में फैल करने सहित बार बार आत्महत्या हेतु उकसाने के कारण अन्तःत छात्र ने दुखी होकर दिनांक 12 मई17 को अपने रूम पर ही एक सुसाइड नोट में अपनी मौत की जिम्मेदार गीतावेणुगोपाल को ठहरा कर आत्महत्या कर ली थी.

प्रथम जाँच में उसे दोषी मानते हुए सदर थाना आबूरोड में प्राथमिकी दर्ज करवाई थी.जिसके खिलाफ मुल्जिमानों ने जोधपुर हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल की किन्तु सिंगल डबल सभी बेंचो ने उसकी अर्जी खारिज कर उसे दोषी मांन लिया.एसपी सिरोही ने मौखिक फोन कर सदर थाना सीआई को आदेश दिया कि उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाय इसके बावजूद भी सदर पुलिस आबूरोड ने गिरफ्तारी को लेकर कोई गंभीरता नही दिखाई ।आज तक न तो वारंट जारी किया है नही उसकी गिरफ्तारी के लिए मोबाइल नंबर ट्रेस की है.

पीड़ित पिता सहित उनके परिजनों ने तीन बार सिरोही एसपी और तीन बार सीआई सुमेरसिंह सदर आबूरोड को ज्ञापन देकर अवगत भी करा लिया उसी क्रम फाइल सदर थाना से अजा जजा अत्याचार जिला थाना वंहा से पुनः सदर थाना घुमाई जा रही है.जिसकी सूचना पर समाज सेवी मफतलाल बुनकर को मिली तो उन्होंने परिजनों के संग मिलकर एक बार पुनः ज्ञापन दिया और दोषी प्रिंसिपल को तुरंत गिरफ्तारी की मांग की और कहा कि यदि कारवाही नही की गई तो दलित नेताओ के साथ मिलकर आबूरोड सहित सिरोही जिला हेड क्वार्टर पर विशाल रैली निकाल कर धरना प्रदर्शन किया जाएगा.इस मौके मफतलाल बुनकर, सवाराम सोरडा,मुकनाराम ,पूनमाराम, डीवाईएसपी सेवानिवृत तगाराम परमार ,बाबुलाल विक्रम सोलंकी ,किसान संघ रानीवाड़ा अध्यक्ष कॉमरेड जोराराम सहित कई समाज बन्धु उपस्थित थे और जरूरत पड़ी तो उग्र आंदोलन भी किया जाएगा

Leave A Reply

Your email address will not be published.