Browsing Category

राजनीति

क्या वास्तव में हमें राजनीति से दूर रहना चाहिए ?

राजनीति बहुत गंदी होती है, इससे तो दूर ही रहना चाहिए,इस तरह की बातें कौन लोग बोलते हैं, क्यों बोलते हैं ? ( बी एल बौद्ध ) भारत आजाद होने से पहले जो लोग रियासतों के राजा थे और आजादी के बाद उनके वंशज विधायक सांसद और…

अशोक गहलोत ने भी बैलेट पेपर से चुनाव की मांग उठाई !

जयपुर-24  अगस्त (विस) ईवीएम के बजाय बैलेट पेपर से चुनाव करवाने की विपक्ष की मांग ने अब जोर पकड़ लिया है ,अब मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने भी ईवीएम में टेम्परिंग की संभावना जताते हुये पुनः बैलेट पेपर वाली व्यवस्था को ही लागू…

आम जनता तो गहलोत के पक्ष में लग रही है !

- भंवर मेघवंशी जनता की सोच और पार्टियों तथा आलाकमान कहे जाने वालों की समझ में भारी अंतर लगता है । राजस्थान में जनता के हर सर्वे में अशोक गहलोत लोकप्रियता में सबसे आगे दिखाई पड़ रहे है ,लेकिन उनकी अपनी पार्टी को ही यह शायद समझ नहीं आ…

क्या चर्च, मोदी सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रहा है ?

विहिप के प्रवक्ता सुरेन्द्र जैन ने गत 7 जून को कहा कि भारत का चर्च, मोदी सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रहा है। उनका यह बयान, गोवा और दिल्ली के आर्चबिशपों के वक्तव्यों की पृष्ठभूमि में आया। दिल्ली के आर्चबिशप अनिल काउडू ने 8 मई, 2018 को…

कर्नाटक में चला गहलोत का जादू !

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव अशोक गहलोत जहाँ भी जाते है ,वहीँ अपनी जादूगरी दिखाने लगते है ,उनके खाते में सफलताएँ निरंतर जुडती जा रही है ,उनका ताजा अचीवमेंट कर्नाटक में भाजपा सरकार का गिरना और…

क्या यही है भाजपा सांसद सी पी जोशी का दलित प्रेम ?

( चित्तोडगढ के सांसद सी पी जोशी द्वारा एक दलित के घर खाना बनवा कर उसे नहीं खाने की बात सोशल मीडिया पर जबरदस्त वायरल हो रही है ,सांसद और भाजपा की तरफ से अभी तक इसका खंडन नहीं किया गया है ) 25 अप्रेल 2018 को चित्तोडगढ़ के सांसद सी.पी. जोशी…

मुख्यमंत्री को मेघवाल पसन्द नहीं है !

राजस्थान में सत्तारूढ़ पार्टी में जब जब भी संगठनात्मक बदलाव की चर्चा चलती है ,तब तब केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल का नाम मीडिया में उछाला जाता है । अभी भी जैसे ही प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी से इस्तीफा लिया गया तो नए अध्यक्ष के रूप में…

कर्नाटक चुनाव और दलितों तथा लिंगायतों की बदलती भूमिका

पिछले महीने के आखिर में चुनाव आयोग ने कर्नाटक चुनाव की तारीखों की घोषणा की. इससे पहले ही कर्नाटक की सभी पार्टियों ने अपनी कमर कस ली थी क्यूंकि 2018 के कर्नाटक चुनाव उन पार्टियों के आने वाले भविष्य के लिए एक फाइनल मैच की तरह है. कांग्रेस के…