Browsing Category

स्पेशल रिपोर्ट

घरों को मकानों में तब्दील कर रही है महिलाओं के साथ बढ़ती घरेलू हिंसा

( महिलाओं के साथ होने वाली घरेलू हिंसा का विश्लेषण करता महत्वपूर्ण आलेख ) ( हेमलता शर्मा ) लॉकडाउन के समय में लगभग पूरी दुनिया में महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा ज्यादा बढ़ी है,कोरोना काल ने महिलाओं के सामान्य जीवन पर बहुत गहरा असर डाला

जम्मू कश्मीर के दलित शहीद : भगत अमरनाथ !

( प्रवीण कुमार अवर्ण ) शहीद भगत अमरनाथ जी का जन्म, सन् 1928 बटोत के नजदीक, एक छोटे से गाँव चम्पा, तहसील और जिला रामबन में हुआ था. इनके पिताजी का नाम श्री मोती राम और माताजी का नाम श्रीमती जानकी देवी था. भगत अमरनाथ जी ने अपनी आठवीं तक की

बाबरी मस्जिद, रामजन्मभूमि और बौद्ध पुरावशेष !

-राम पुनियानी इस समय देश में तालाबंदी है. कारखाने बंद हैं, निर्माण कार्य बंद हैं और व्यापार-व्यवसाय बंद हैं. परन्तु अयोध्या में राममंदिर का निर्माण चल रहा है. इसकी राह उच्चतम न्यायालय ने प्रशस्त की थी. अदालत के इस निर्णय पर समुचित बहस

क्या मास्क लगाना इतना जरूरी है ?

(स्कंद शुक्ला)"मास्क पहनना इसलिए ज़रूरी है क्योंकि परहित से बड़ा कोई 'पुण्य' नहीं और परपीड़ा से बड़ा 'पाप' !" हमारी बातचीत इसपर ख़त्म हुई थी। लॉकडाउन के दौरान भी वह आवश्यक काम से बाहर निकलते हुए जब-तब मास्क लगाना नज़रअंदाज़ कर रहा था।

लाॅकडाउन में अनलाॅक हो गई है कालाबाजारी !

(लखन सालवी)देश में आए जानलेवा वायरस से बचाने के लिए सरकार ने देश को लाॅकडाउन कर दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने 21 दिन का लाॅकडाउन करने की घोषणा की, यह अवधि 23 मार्च से 15 अप्रेल तक थी। 14 अप्रेल को प्रधानमंत्री मोदी ने देश को संबोधित करते हुए

हांटावायरस : इससे डर की जरुरत नहीं, भय से बचिए।

(डॉ.स्कन्द शुक्ला ) चीन से कुछ ख़बरें एक दूसरे विषाणु हांटावायरस-संक्रमण की आ रही हैं। एक व्यक्ति की मृत्यु हुई है और तीस से अधिक संक्रमण से ग्रस्त पाये गये हैं। सोशल मीडिया पर इस ख़बर से --- ज़ाहिर है , परेशान लोगों के अकुलाहट और

संसार का एक अजूबा है म्यांमार के बागान शहर के हजारों प्राचीन बौद्ध स्तूप

(डॉ.एम.एल.परिहार)आज यह यूनेस्को की विश्व धरोहर है जिसे देख कर एकाएक यकीन नहीं होता कि वास्तुकला का यह अजूबा इसी धरती पर है. म्यांमार के इरावती नदी के किनारे लगभग 45 वर्ग किलोमीटर में फैले लगभग चार हजार प्राचीन विशाल बौद्ध स्तूप आज दुनिया

मेरे भैया गए है रंगून, वहां से किया है टेलिफुन, धम्म की बात बताते है !

साथियों, इन दिनों मैं म्यांमार (बर्मा) की धम्म यात्रा पर हूं.धम्म की गौरवशाली संस्कृति को संजोए रखने वाले इस देश का इतिहास व वर्तमान बहुत रोचक है. सन् 1200 से 1800 के बीच जब भारत से बौद्ध धर्म को नष्ट कर जमीन में दफनाया जा रहा था उस काल में…

मछ्ली न देने पर दलित मुशहर युवक की हत्या, मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की टीम घटनास्थल पंहुची !

(विद्याभूषण रावत) घटना 28 अक्क्तुबर की शाम करीब 3 बजे की है जब छोटू मुशहर, जिसकी उम्र लगभग 30 वर्ष की थी, रोज की भाँति अपने गांव से करीब 1 किलोमीटर दूर रमन छपरा गांव के घाट पर, जो की छोटी गंडक नदी का तट है, मच्छी मारने के लिये गया था और

यह सरकार निजता भंग करने की अपराधी है !

(सीमा आज़ाद )रोज की तरह 30 अक्टूबर की सुबह 10 बजे के करीब नेट ऑन किया, तो व्हाट्सएप पर एक मेसेज बाकी मेसेजेस से अलग था। यह मेसेज खुद व्हाट्सएप का था। इसमें लिखा था कि मई में बहुत सारे व्हाट्सएप वीडियोकॉल के जरिये एक जासूसी वायरस कई फोन