Browsing Category

विविध

मैं बस खाली हो गया हूं….रोहित वेमुला का आख़िरी ख़त

आज रोहित वेमुला का शहादत दिवस है. रोहित वेमुला हैदराबाद विश्वविद्यालय में पीएचडी छात्र थे जिन्होंने 17 जनवरी 2016 को आत्महत्या कर ली थी. रोहित और उसके कुछ साथियों को इससे कुछ दिन पहले हॉस्टल से निकाल दिया गया था. रोहित ने अपनी मौत से

थम नहीं रहे महिलाओं पर अत्याचार !

( भंवर मेघवंशी ) सत्ताओं के बदलाव से उत्पीडित समुदायों में उमीदें जागती है ,उन्हें लगता है कि राज बदलने से उनके दिन फिर जायेंगे ,उनकी अर्जियां सुनी जाएगी ,उन पर कार्यवाही होगी ,उनके लिये न्याय का बंदोबस्त होगा ,लेकिन राज बदलने मात्र से

जागरूक होकर ही आदिवासी समुदाय अपने हक प्राप्त कर सकता हैं -मेघवंशी

करजलिया, (भीलवाड़ा)20 दिसम्बर 2019 ) करजालिया ग्राम पंचायत के नया डोटा गांव में एकलव्य युवा संगठन के बैनर तले भील समाज की एक मीटिंग आयोजित की गई,जिसमें भील समाज के लोगों ने बताया कि हमारे समाज को कृषि कनेक्शन से बरसों से वंचित रखा गया है।

नानक होना जीवन के अनुभवों का सार होना है !

(रवीश कुमार) गुरुनानक देव सतत यात्री थे। 27 साल की उम्र में ही उन्होंने 9 देशों की यात्राएं कीं। 150 से अधिक धर्मस्थलों का दौरा किया। उनके सहयात्री थे भाई मरदाना। पाकिस्तान में मरदाना की आज भी वंशावली चलती हैं। हैं मुस्लिम लेकिन गाते

ऑनलाइन शॉपिंग या लोकल बाजार ?

-सूरज पारीक फ्लिपकार्ट और अमेजन ने अक्टूबर में ही अपने तीसरे हमले की तैयारी कर ली है।दोनों भारी ई कॉमर्स वेबसाइट ने अक्टूबर महीने में ही तीसरी बम्पर सेल की आरम्भ कर दी है,जो 21 से 25 अक्टूबर तक चलेगी।ऐसा पहली बार हुआ है कि दोनों तरफ से

‘मिनी राजस्थान’…..शिल्पग्राम, जवाहर कला केंद्र जयपुर।

-विरमाराम इस परिसर में बने छः परम्परागत ग्रामीण शैली के घर राजस्थान के 6 क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करते हैं। ये 6 क्षेत्र हैं बृज (भरतपुर), हाड़ौती (कोटा), आदिवासी (डूंगरपुर), बीकानेर, मारवाड़ (बाड़मेर), शेखावाटी (सीकर) और जयपुर। ये

क्या कोटा विवि कर रहा है छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ ?

(नासिर शाह 'सूफ़ी') अगर आप रात दिन मेहनत करके अपनी परीक्षा की तैयारी करते हैं। शादी, ब्याह, पार्टियां और समस्त मनोरंजन  छोड़कर पहले अपनी पढ़ाई करते हैं तो स्पष्ट है कि इतनी मेहनत करने और कुर्बानियां देने के बाद आपका परिणाम भी उतना ही

एक शिक्षक की शिक्षा मंत्री के नाम खुली चिटठी !

आदरणीय शिक्षा मंत्री जी,सादर नमस्कार ! आशा करता हूं कि आप स्वस्थ और प्रसन्न होंगे । हां, मैं स्वस्थ तो हूं पर प्रसन्न नहीं । शायद आप मेरी अप्रसन्नता का कारण जानना चाहेंगें । बात दर असल ये है कि अनेक विपरीत पारिवारिक-सामाजिक परिस्थितियों

भगतसिंह, सुखदेव और राजगुरू की शहादत पर डॉ अम्बेडकर के विचार

( यह आलेख डॉ अम्बेडकर द्वारा सम्पादित पाक्षिक अख़बार 'जनता' के 13 अप्रैल 1931 के अंक में छपा था ) भगतसिंह, सुखदेव और राजगुरू इन तीनों को अन्ततः फांसी पर लटका दिया गया। इन तीनों पर यह आरोप लगाया गया कि उन्होंने सान्डर्स नामक अंग्रेजी

बीसलपुर की बधाई के साथ चिन्ता भी

 (ओम माथुर )आपको बीसलपुर की बधाई। अजमेर के लोगों के लिए बीसलपुर में पानी आना होली-दीवाली जैसे त्यौहार की तरह ही तो हैं । जैसे हम होली -दिवाली पर एक दूसरे को बधाई देकर खुशियां मनाते हैं,वैसे ही अब बीसलपुर में पानी आने से अजमेर की लोगों