Browsing Category

नज़रिया

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का एससी-एसटी के प्रति प्रेम !

(त्रिभुवन) वह देश का एक महाकाय संगठन है। उसकी एक राजनीतिक शाखा है। वह आज तक आरक्षण के ख़िलाफ़ था। एकदम खुला। निडर और साहसी। डंके की चोट पर। इस संगठन से जुड़े हमारे 'मित्र' एससी-एसटी को लेकर बहुत कुछ ऐसा कहते थे, जो बताता था कि भारतीय…

महाराणा प्रताप की महानता को कमतर मत कीजिये !

(भँवर मेघवंशी) मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले के एक गांव में लगे पोस्टर को देखकर लगा कि जैसे महाराणा प्रताप भी एससी एसटी एक्ट के विरोधी थे और सामान्य वर्ग के गांव में रहते थे । इसका मतलब तो यह हुआ कि जो इतिहास में पढ़ा ,वह शायद झूठ था…

होमो सेक्सुअलिटी बनाम धर्म ,मजहब ,रिलीजन !

-(भंवर मेघवंशी)  समलैंगिकता पर आज सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला आया है ,एक परिपक्व होते लोकतांत्रिक में इस तरह के फैसले की अपेक्षा तो रहती ही है ,इस दिशा में लंबे समय से जो समलैंगिक कार्यकर्ता संघर्षरत थे ,उनको जीत मिली। लंबे संघर्षों…

एससी-एसटी एक्ट को लेकर फैलाये जा रहे झूठ का मुकाबला कैसे करें ?

(भँवर मेघवंशी) सोशल मीडिया पर एससी एसटी एक्ट में हुए बदलावों  की अपनी ही तरह से व्याख्या करते हुए एक पेम्पलेट प्रचारित किया जा रहा है ,जिसे लोग सच मानकर फॉरवर्ड कर रहे है, जबकि इस मामले में तथ्य यह कहते है ? किसी भी कानून का विरोध…

तो अब नोटा और सोटा की तैयारी हो रही है !

कैसी दादागिरी है ? जालिमों को जुल्म करने का लाइसेंस चाहिए ,ताकि अत्याचार भी करे लेकिन कानून से भी बचे रहें । किसी शायर ने कहा - " बेकसर चाबुक चलाये ,बेरहम जल्लाद ने /और अश्कों को छलकने की इजाज़त तक न दी ।" मतलब जाति रखेंगे, जातिगत…

पाण्डेय जी ने किया दलित आदिवासियों के ख़िलाफ़ एक राष्ट्रवादी गुनाह !

( भंवर मेघवंशी ) " हिंदुत्व वादी सवर्ण नेता नित्यानंद पांडेय ने एससी ,एसटी समुदाय का सामाजिक एवं आर्थिक बहिष्कार करने की अपील की है " कोई राष्ट्रवादी युवा वाहिनी है ,जो आरएसएस जनित लगती है ,क्योंकि उसके लेटरहेड पर संघ की…

‘कालूड़ी’ का ‘काला सच’ – दलित गाँव छोड़ने को है मजबूर !

- भट्टा राम देश आजाद होने के 71 वर्षों के बाद भी दलित गुलामी में जी रहे है। बाड़मेर जिले के पुलिस थाना बालोतरा के अंतर्गत कालूड़ी गांव के अनुसूचित जाति के मेघवाल जाति के 70 परिवारों की बहिष्कृत कर दिया गया है। कुछ दिन पहले…

जिस धर्म व्यवस्था में अपमान हो ,उसे ठोकर मारे !

जालोर में मन्दिर की भोजनशाला में खाना खाने पर दलित की पिटाई    - भंवर मेघवंशी जालोर जिले के सांचौर तहसील क्षेत्र के झाब थाना इलाके के चौरा गांव का एक धर्मभीरु आस्तिक हिन्दू दलित बिजरोल खेड़ा के खेतेश्वर मन्दिर में जाति…

‘घुमन्तुओं के संघीकरण’ की परियोजना पूरी हो चुकी है !

-  भंवर मेघवंशी आज देश भर में "घुमन्तू मुक्ति दिवस" मनाया जा रहा है । ऐसा माना जाता है कि तकरीबन 666 जातियां है जो घुमन्तू,अर्धघुमंतू व विमुक्त की श्रेणी में आती है ,इनकी आबादी 15 करोड़ से अधिक अनुमानित है । ये लोग अलग अलग जगहों पर अलग…

तोषिणा में दलित समाज की आम सभा में उमड़ा जन सैलाब !

भीख नहीं भागीदारी चाहिये, देश की हर ईंट में हिस्सेदारी के महाआंदोलन के तहत अनिश्चित भूख हड़ताल ( एडवोकेट कमल भट्ट ) अंबेड़कर महासभा की राष्टी्य अध्यक्षा विद्या गौतम व्दारा *भीख नही भागीदारी चाहिये इस देश की हर ईंट में हिस्सेदारी…