जातिगत अपमान अब बर्दाश्त नही – सालवी

835

उदयपुर ( प्रतिनिधि ) डॉ. अम्बेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी राजस्थान, डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती सँयुक्त समारोह समिति,भीम स्वयं सेवक संघ एवं मेघवाल समाज सेवा संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में अनुसूचित जाति/जनजाति वर्ग के युवा एडवोकेट पी.आर. सालवी, ललित मेघवाल के नेतृत्व में सोमवार को डॉ. अम्बेडकर सर्कल पर एकत्रित हुए जहां पर बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण किया तथा गगनभेदी बाबा साहेब अमर रहे और दलित अत्याचार के विरुद्ध नारेबाजी कर कलेक्टरी पहुंचे जहां पर धरना प्रदर्शन कर दलितों पर हो रहे जुल्म अत्याचार पर आक्रोश व्यक्त किया।

दलित आंदोलनकारी व एस.सी.- एस.टी. जनसंघर्ष मंच के संयोजक एडवोकेट पी.आर. सालवी ने धरना – प्रदर्शन कर रहे युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश व राज्यो के साथ उदयपुर में भी अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग को टारगेट कर सोशल मीडिया पर दलित-आदिवासियों की पिटाई करने, जातिगत गालियां देने ,आरक्षण और संविधान पर कटाक्ष कर दलित-आदिवासी समाज को अपमानित करने का सिलसिला शुरू हुआ है जो देश व समाज के लिये घातक है।

एडवोकेट पी.आर. सालवी ने कहा हाल ही वाट्सऐप पर वीरेन्द्र प्रताप सिंह देवड़ा निवासी सेक्टर-9, उदयपुर ने स्वयं द्वारा एक वीडियो बनाकर आरक्षण पर अभद्र टिप्पणी कर और अनुसूचित जाति के मेघवाल समाज पर जातिगत गालियां देकर सार्वजनिक रूप से अपमानित किया जा रहा है जिसे अब दलित वर्ग कभी बर्दाश्त नही करेगा । सालवी ने दलित-आदिवासियों को संगठित होकर जातिगत अपमान का मुकाबला करने का आह्वान किया तथा आरक्षण एवं संविधान को बचाने के लिये आरक्षित वर्ग को एक मंच पर आकर संघर्ष करने की अपील की ।

एडवोकेट पी.आर. सालवी एवं हीरालाल मेघवाल के नेतृत्व में शनिवार को युवा हिरण मगरी थाने पहुंच कर भारी आक्रोश के साथ वीरेन्द्र प्रताप सिंह देवड़ा के विरुद्ध थानाधिकारी को एक लिखित रिपोर्ट देकर जातिगत वैमनष्यता फैलाने, अजा/जजा अत्याचार निवारण अधिनियम, भारतीय दण्ड संहिता और आई.टी. एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर सख्त कानूनी कार्यवाही कर गिरफ्तार करने की मांग की लेकिन सोमवार प्रातः तक अभियुक्त को पुलिस द्वारा गिरफ्तार नही किया जिस कारण सोमवार को जिला कलेक्टरी पर समस्त अनुसूचित जाति/जनजाति के संगठनों द्वारा धरना प्रदर्शन कर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देकर वीडियो वायरल करने वाले के विरुद्ध सख्त कार्यवाई करने की मांग की ।

इस दौरान आदिवासी क्रान्ति मंच के प्रदेश महासचिव एडवोकेट बाबूलाल कलासुआ,गोविंद गुरु जनजाति विश्विद्यालय के पूर्व अध्यक्ष विकास मीणा ,बामसेफ के आर. सी. जाटव,एडवोकेट शिवकुमार सालवी, दिनेश सालवी,मेघवाल समाज सेवा संस्थान के एडवोकेट चन्द्र शेखर मेघवाल, राजू मेघवाल, लाला मेघवाल, भीम स्वयं सेवक संघ के ललित मेघवाल,लक्ष्मण मेघवाल, भगवानलाल मेघवाल, नोटेरी दिनेश मेघवाल, नोटेरी डालचंद मेघवाल,जितेन्द्र मेघवाल, करण रलोती, मोहनलाल मेघवाल, शांतिलाल मेघवाल, घनश्याम मेघवाल, लोकेश मेघवाल सहित दर्जनों मेघवाल समाज के युवा मोजूद थे।ज्ञापन के पश्चात सभी युवा हाइकोर्ट बेंच आंदोलन के समर्थन में धरना स्थल पहुंच धरने में शामिल होकर अपना समर्थन दिया ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.