आदिवासियों को किया बेघर !

560

(प्रतापगढ़,1 जुलाई 2019)

प्रतापगढ़ जिले के छोटी सादड़ी के ग्राम कान्याकुड़ी नारेला खेड़ा में वन विभाग द्वारा आदिवासियों के घर तोड़ दिए गए I घर तोड़ने से पहले वन विभाग द्वारा इन आदिवासियों को कोई नोटिस नहीं दिया गया I आदिवासी समुदाय की महिलाओं ने बताया कि वन विभाग वाले जेसीबी लेकर आये और कहा तुम्हारे घर यहाँ से हटायेंगे I जब हमने विरोध किया तो उन्होंने हमारे साथ मारपीट करते हुए हमारे घरों को गिरा दिया,हमारे खेतों को नष्ट कर दिया और पीने के पानी के लिए जो कुआँ इस्तेमाल करते थे उसको भी मिट्टी से भर दिया I अब ना हमारे रहने के लिए जगह बची है ना पीने का पानी I

बेघर आदिवासी

 

आदिवासी लोगों से मिलने पंहुचे सामाजिक कार्यकर्ता हरलाल बैरवा ने बताया की वन विभाग की ये पूर्णतया अवैधानिक कार्यवाही है I उन्होंने बिना नोटिस के इनके घर तोड़ दिए है I ये लोग लगभग 30-40 साल से यहाँ रह रहे हैं और वन विभाग लगातार इन लोगों से पैसे ले रहा है, इनके पास उसकी कईं रसीदें भी मौजूद है I

वन विभाग इससे पहले इन लोगों को 2 नोटिस देता है जिसमे ये स्वीकार किया गया है की ये आदिवासी इस जमीन पर कईं सालों से काबिज है और साथ ही स्थानीय ग्राम पंचायत के पटवारी भी ये लिखकर देते हैं कि ये आदिवासी वन दावा प्राप्त करने की सारी शर्तें पूरी करते हैं जिसमें खसरा नम्बर भी अंकित है I पीड़ित परिवारों ने वन दावा प्राप्त करने के आवेदन भी लगा रखे हैं लेकिन अब तक उन पर कोई सुनवाई नहीं हो पायी है

Leave A Reply

Your email address will not be published.