जयपुर में दूसरे बहुजन साहित्य महोत्सव का आगाज़ !

87

(15 फरवरी 2019,जयपुर)

जयपुर में आज से 3 दिवसीय बहुजन साहित्य महोत्सव की शुरुआत हुयी I देश के कईं राज्यों से लोग बहुजन साहित्य महोत्सव में भाग लेने के लिए पंहुच रहे हैं I

महोत्सव के पहले दिन ‘बहुजन साहित्य की अवधारणा’ , ‘समृद्ध लोकतंत्र में मीडिया की स्वतंत्रता एवं निष्पक्षता और बहुजनों का योगदान’, ‘आदिवासियों के संघर्ष:जल,जंगल,जमीन व P.E.S.A ACT’ , आदि सत्र हुए I

महोत्सव में शाम को प्रख्यात बहुजन चिंतक, गायक और संगीतकार संभा जी भगत के जोशीले गीतों ने समां बाँधा I

महोत्सव के मुख्य संयोजक इंजी.राजकुमार मल्होत्रा ने बताया कि 3 दिन तक चलने वाले इस महोत्सव में बहुजन साहित्य से जुड़े कईं सत्र होंगे I जिनमे प्रमुख सत्र होंगे –

  • बहुजन साहित्य में महिला अधिकारों के सवाल एवं सशक्तिकरण के लिए ईमानदार प्रयास

  • भारतीय सविधान के समक्ष चुनोतियाँ विशेषकर धर्म निरपेक्षता के सम्बन्ध में

  • अंतराष्ट्रीय स्तर पर डॉ.अम्बेडकर की बढती लोकप्रियता और विश्व शांति के लिए सन्देश

  • किसानों की बढती समस्याएं :समाधान हेतु महात्मा ज्योतिबा फुले के विचारों की प्रासंगिकता

  • बदलते हुए परिप्रेक्ष्य में निजी क्षेत्र में आरक्षण की आवश्यकता

  • संविधान के रास्ते:बहुजनों के वास्ते

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.