Notice: Trying to get property of non-object in /customers/9/9/d/shunyakal.com/httpd.www/wp-content/plugins/custom-sidebars/inc/class-custom-sidebars-replacer.php on line 523
आम जन का मीडिया

कर्मकांडीय संतोष और भारत की जहालत

एक गांव में एक छोटा बच्चा बीमार हुआ। उसके माता पिता दिहाड़ी मजदूर थे। वे दवाई खरीदने की बात तो छोड़िए डॉक्टर की फीस तक नही भर सकते थे। उन्हें किसी बाबा के चमत्कार और ईश्वर में विश्वास था। अक्सर ही जो लोग जरूरी चीजें नहीं करना चाहते…

गिरधारी लाल मेघवाल अनुसूचित जाति परिषद के जिलाध्यक्ष नियुक्त !

भीलवाडा, अखिल भारत अनुसूचित जाति परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ योगेंद्र मकवाणा द्वारा मनोनीत राजस्थान के प्रदेशाध्यक्ष रिटायर्ड आईपीएस आर पी सिंह ने भीलवाड़ा जिले के जिलाध्यक्ष के रूप में जगपुरा निवासी गिरधारी लाल…

जातिगत अपमान अब बर्दाश्त नही – सालवी

उदयपुर ( प्रतिनिधि ) डॉ. अम्बेडकर मेमोरियल वेलफेयर सोसायटी राजस्थान, डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती सँयुक्त समारोह समिति,भीम स्वयं सेवक संघ एवं मेघवाल समाज सेवा संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में अनुसूचित जाति/जनजाति वर्ग के युवा एडवोकेट पी.आर.…

भाजपा की तरकश का नया तीर होगा आरक्षण का वर्गीकरण

23 मई को कर्णाटक के नए मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में विपक्षी नेताओं की भीड़ देखकर भाजपा के कुशासन से त्रस्त जिन लोगों ने भारी राहत की सांस लिया था. वे निश्चय ही 31 मई को आये चार लोकसभा और दस विधानसभा सीटों के उपचुनाव का…

मां की याद में पैतृक भवन समाज को समर्पित किया

गोपालन विभाग के पूर्व निदेशक एवं जाने माने बहुजन चिन्तक ,लेखक और वक्ता डा एम एल परिहार की माताजी का 86 वर्ष की उम्र पर स्वस्थ अवस्था में आकस्मिक देहांत हो गया । उनका दाह संस्कार मिट्टी द्वारा उनके पैतृक गांव करणवा तह.देसूरी जिला पाली में…

आजाद भारत में कब तक गोली चलेगी निर्दोषों पर?

- बाबूलाल नागा आखिरकार, तमिलनाडु सरकार को तूतीकोरिन स्थित वेदांता स्टरलाइट प्लांट को स्थाई तौर पर बंद करने का आदेश देना ही पड़ा। आदेश के बाद अधिकारियों ने प्लांट को सील कर दिया है। उल्लेखनीय है कि स्टरलाइट कॉपर प्लांट के खिलाफ जनसंगठनों…

संकट में है कलंदर समुदाय

- भारत डोगरा हमारे देश में कुछ समुदाय ऐसे हैं जिनकी परंपरागत आजीविका बहुत तेजी से कम हुई है। इनमें से कुछ समुदायों की आजीविका तो व्यापक आर्थिक बदलावों के कारण कम हुई पर ऐसे भी समुदाय हैं जिनकी आजीविका को अनुचित व अन्यायपूर्ण कानूनों व…

रासुका के सांप्रदायिक षडयंत्र के खिलाफ रिहाई मंच का अभियान

लखनऊ/बाराबंकी, रिहाई मंच के प्रतिनिधि मंडल ने बाराबंकी के महादेवा में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत निरुद्ध किए गए लोगों के परिजनों से मुलाकात की। मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के जुलूस के दौरान गुलाल फेंकने की घटना के बाद पैदा हुए…

तीस्ता सेतलवाड़ और जावेद आनंद को क्यों निशाना बनाया जा रहा है?

तीस्ता सेतलवाड़ और जावेद आनंद जैसे मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को झूठे केसों में फ़सा कर उन्हें किसी भी तरह जेल में डालने के गुजरात पुलिस के लगातार प्रयास से CJP स्तब्ध है और त्रस्त भी. हालाँकि बॉम्बे हाई कोर्ट के पारगमन ज़मानत दिए जाने और सुप्रीम…

डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्मस का पॉजिटिव यूज आम जन को सशक्त कर सकता है – मेघवंशी

( शून्यकाल एक गांव से चलाया जा रहा सोशल मीडिया इनिशिएटिव है,जिसने बहुत कम समय मे अपनी पहचान बनाई है,25 मई 2018 को दिल्ली में स्थित होटल यूरोज में डिजिटल एम्पावरमेंट फाउंडेशन द्वारा आयोजित समारोह में शून्यकाल को सोशल मीडिया फ़ॉर एम्पावरमेंट…