Notice: Trying to get property of non-object in /customers/9/9/d/shunyakal.com/httpd.www/wp-content/plugins/custom-sidebars/inc/class-custom-sidebars-replacer.php on line 522
आम जन का मीडिया

मीना जनजाति पर हिंदू एक्ट क्यों लागू नहीं होते?

राजस्थान हाई कोर्ट ने पिछले दिनों एक प्रकरण का निस्तारण करते हुए स्पष्ट आदेश दिये हैं कि हिंदू विवाह अधिनियम, 1955 के प्रावधान मीना जाति पर लागू नहीं होंगे। इसके ठीक विपरीत मीना जाति के अधिकतर राजनेता और उच्च पदस्थ अधिकारी भी हिंदुत्व,…

काश, बीमार भगवान की मौत हो जाती !

( चंद्रभूषण सिंह यादव ) भगवान बीमार थे वह भी आमरस पीने से । पुजारी ने भगवान के बदन दर्द को मिटाने के लिए मालिश किया है। डॉक्टर ने आला लगा करके भगवान का चेकअप भी कर लिया है। भगवान सेव-फल,काजू-मेवा आदि खाकर अपना स्वास्थ्य बना रहे…

सुखराम नट के गांव में

( ईशमधु तलवार ) वैर से कोई चार किमी लंबी सड़क, जिसमें सड़क नाम की चीज अब कहीं-कहीं पर ही बची है, मुहारी गांव ले जाती है। दोनों ओर लगे जामुन और अमरूदों के बागों की खुशबू हम तक अपने आप पहुंच जाती है, क्योंकि इस बीहड़ रास्ते पर…

“सावित्री बाई फुले महिला मंडल” एक मिशन है !

( रोशन मुंडोतिया ) सावित्री बाई फुले महिला मंडल की स्थापना अक्टूबर,2017 में हुई ,इसका  ड्रेस कोड सफ़ेद कपड़े और माँ सावित्री बाई फुले के चित्र के साथ संगठन का नाम. जी हां आज मैं बात कर रहा हूँ राजस्थान में सीकर जिले के…

कोई पैदाईशी कम्युनिस्ट नहीं होता !

( दिनेश राय द्विवेदी ) आजकल यहाँ खूब देखने को मिल रहा है, किसी कम्युनिस्ट नेता के सिर पर टीका, कलश या फूलों के थाल का चित्र दिखा कर कहा जा रहा है कि ये कैसे कम्युनिस्ट हैं जो धार्मिक आयोजन में शामिल हैं? कम्युनिस्ट का मतलब यह तो…

2 अप्रैल के केस वापस लेने बाबत जयपुर में धरना प्रदर्शन 20 जुलाई को 

( डॉ दशरथ हिनूनिया )  2 अप्रैल 2018 के भारत बंध जन आंदोलन में जो दलित आदिवासी तबके के लोगों पर फर्जी और झूठे केस बनाए गए हैं ,उन सबको वापस लेने के लिए आंबेडकराईट पार्टी ऑफ इंडिया अन्य सामाजिक और राजनीतिक संगठनों के साथ में मिलकर 20…

 मनुवादियों का मकसद – “बहुजनों को डराओ और व्हाटसअप से हटाओ”

-बी एल बौद्ध बहुजन समाज के जागरूक लोगों की दिन रात की मेहनत से मनुवादियों की नींद हराम हो चुकी है ,इसलिए अब उन्हें व्हाट्सएप्प से डर सताने लगा है, क्योंकि जैसे जैसे बहुजन समाज के लोग अपने महापुरुषों की विचारधारा से रूबरू हो…

 डांगावास के पीड़ितों के साथ की गई वादाखिलाफी का जवाब लिया जायेगा  !

14 मई 2015 को नागौर जिले के डांगावास गांव में एक भूमि को लेकर हुये निर्मम हत्याकांड के खिलाफ देश भर में जबरदस्त आक्रोश व्याप्त हो गया था और जगह जगह आंदोलन हुये, उस दौरान राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार ने पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए बनी…

कॉम्पीटिशन तैयारी के लिये बोधि रेजिडेंट्स !

बोधि रेजिडेंट्स -सूरतगढ़  अनुसूचित जाति/जनजाति के ऐसे छात्र जो - 1. कम्पीटीशन की तैयारी करता हो, तथा 2. ज़रूरतमंद हो, तथा 3. प्रतिभाशाली हो, तथा 4. आम्बेडकरी विचारधारा का हो या इसकी प्रबल सम्भावनाओं वाला हो ऐसे छात्रों को…

‘ग्यारसी बुआ ‘ जैसे लोग कभी नहीं मरते !

(लखन सालवी) उसने सामाजिक बंधनों को तोड़ा, कच्ची टापरी की दहलीज लांघी, रात में 4-4 किलोमीटर पैदल चलकर रात्रि शाला में शिक्षा से जुड़ी। हस्ताक्षर करना सीख कर प्रमाणित साक्षर बनी। यहां उसने "ले मशाले चल पड़े है लोग मेरे गांव के, अब अंधेरा…