Notice: Trying to get property of non-object in /customers/9/9/d/shunyakal.com/httpd.www/wp-content/plugins/custom-sidebars/inc/class-custom-sidebars-replacer.php on line 522

पूर्व प्रधान उदाराम मेघवाल को सोशल मीडिया पर मिली धमकी, किया जातिगत शब्दो से अपमानित

दलित नेता को कर्नल का समर्थन करना पड़ा भारी कोतवाली थाने में चार युवको के खिलाफ दर्ज कराया मामला बाड़मेर, 18 अगस्त।बाड़मेर-जैसलमेर सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी पर हुए हमले के बाद गुरूवार को हरलाल जाट छात्रावास में आयोजित सभा में पहुंचे दलित…

आरक्षित वर्ग के खिलाफ भयंकर साज़िश हो रही है !

( राजाराम मील ) हाल ही में एससी, एसटी एवं ओबीसी वर्ग के खिलाफ राजस्थान हाईकोर्ट द्वारा दिनांक 28 मई 2018 और 29 मई 2018 को दो फैसले दिये गये। आरएएस भर्ती परीक्षा 2013 के मामले में आरपीएससी द्वारा हर वर्ग के 15 गुना अभ्यर्थियों को…

घुमन्तु समुदाय को विधानसभा चुनावों में 50 सीटें दी जाये- केसावत

17 अगस्त 2018,जयपुर जयपुर पिंक सिटी प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए राजस्थान "डीएनटी बोर्ड" के पूर्व अध्यक्ष गोपाल केसावत ने कहा कि भारत में घुमंतू , विमुक्त व अर्द्ध घुमंतू समुदाय ( DNT Community) की आबादी लगभग…

तीसरा टेस्ट मैच कल ट्रेंटब्रिज में खेला जायेगा !

- ललित मेघवंशी भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही टेस्ट सीरीज का तीसरा टेस्ट कल नाटिंघम के ट्रेंटब्रिज मैदान पर खेला जाएगा। पांच मैचों की सीरीज में इंग्लैंड 2 - 0 से आगे हैं। इंग्लैंड ने भारत को पहले टेस्ट मैच 31 रनों से हराया और दूसरे…

जब वाजपेयी जी ने कहा था ‘पाकिस्तान जाकर खेल ही नहीं, दिल भी जीतिए !

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन ! पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन गुरुवार शाम 5.05 मिनट पर हो गया। वह 93 साल के थे। अटल जी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी का जन्म 25 दिसम्बर…

प्रत्येक भारतीय खुश क्यों नहीं है ?

प्रत्येक वर्ष 15 अगस्त को भारतवर्ष में स्वतंत्रता दिवस समारोह आयोजित किया जाता है और इस अवसर पर आजादी के लिए अपने प्राणों को बलिदान करने वाले शहीदों को याद किया जाता है एवं एक दूसरे को मिठाई खिलाकर मुबारकबाद दिया जाता है जो कि अच्छी परम्परा…

क्या वास्तव में भारत का राष्ट्रध्वज तिरंगा है..?

किसी भी बात को अपने तर्क-विवेक और संशय आधारित वैचारिकता से बिना परखे अनुकरण करना हानिकारक हो सकता है। भारत में आजकल राष्ट्रवाद का झंडा लिए घूम रहे तथाकथित राष्ट्रवादी गिरोह तरह तरह के नारों से राष्ट्रवाद का प्रचार कर रहे है। हर भारतीय को वे…

कुसुमार्चन’ पर परिसंवाद सम्पन्न !

- फारूक आफरीदी जयपुर : शब्द संसार और डॉ राधाकृष्ण राज्य पुस्तकालय के तत्वावधान में सोमवार को यहाँ मूर्धन्य साहित्यकार डॉ नरेन्द्र शर्मा कुसुम पर केन्द्रित ग्रन्थ ‘कुसुमार्चन’ पर परिसंवाद का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रसिद्ध…

सांस्कृतिक संवेदनशीलता बढ़ाना मीडिया की जिम्मेदारी – चतुर्वेदी

- राहुल हिन्दू कालेज में अभिरंग की गतिविधियों का उद्घाटन... नयी दिल्ली। पत्रकार ही सत्ता के गाजे बाजे में शामिल हो जाएगा तो सच कैसे लिखेगा? भारतीय मीडिया में सच की इस कमी के कारण ही अब समाज पत्रकारों पर विश्वास नहीं करता। यदि आज…

भारत की गुलामी और पिछड़ेपन का असली कारण !

- संजय श्रमण इस देश में एक तबका है जो अपने छोटे से दायरे में एक ही जाति और वर्ण के लोगों की टीम में बैठकर सदियों से निर्णय लेता रहा है। अन्य वर्ण और जातियों की क्या सोच हो सकती है उन्हें पता नहीं, न ही वे पता करने की जरूरत समझते हैं।…