दलित की बिन्दौली रोकने वालों को गिरफ्तार करने की मांग !

918

रायला ,निकटवर्ती धुँवालिया गांव में 6 मार्च को दलित दूल्हे की घोड़े पर निकल रही बिन्दौली को रोकने वाले लोगों के खिलाफ दर्ज मुकदमे के नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर दलित संगठनों ने पुलिस उपाधीक्षक गुलाबपुरा को आज एक ज्ञापन सौंपा.

दलित आदिवासी एवम घुमन्तू अधिकार अभियान राजस्थान (डगर) के प्रदेश संयोजक देबीलाल मेघवंशी तथा शूद्र विकास सेवा संस्थान के अध्यक्ष गोपाल लालावत के नेतृत्व में रायला थाने में दिये गए ज्ञापन में मांग की गई कि दलित उत्पीड़न के आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हो तथा पीड़ित दलित परिवारों की सुरक्षा का इंतज़ाम किया जाये ,अन्यथा जिले भर के दलित संगठन इसके खिलाफ आंदोलन छेड़ देंगे ।

उल्लेखनीय है कि रायला थाना क्षेत्र के धुवालिया ग्राम में 6 मार्च को निकाली जा रही दलित मेघवंशी समाज के दूल्हे की बिंदोली में समाजकंटकों ने बिंदोली को रुकवा कर मार्ग में बाधा उत्पन्न की एवं दलित समाज के लोगों के साथ अभद्रता एवं गाली गलौज की जिसके कारण दलित समाज की भावनाएं आहत हुई .6 मार्च को धुवालिया में रामपाल मेघवंशी के बेटी की शादी के दौरान कंवलियास से आई बारात में दूल्हे की बिंदोरी निकाली जा रही थी तभी जाट मोहल्ले में समाजकंटकों ने बिंदोली को रोककर गाली गलौज की थी.जिसके कारण माहौल गर्मा गया था रायला थाना अधिकारी पांचूराम चौधरी ने मौके पर पहुंचकर माहौल को शांत किया वह विधिवत बिंदोली निकलवाई थी.

ज्ञापन देने वालों में मेघवंशी युवा परिषद के जिला उपाध्यक्ष महावीर मेघवंशी,हुरडा तहसील अध्यक्ष बद्री मेघवंशी , शुद्र विकास सेवा संस्थान के मोहन बैरवा और मेघवंशी युवा परिषद के हेमराज मेघवंशी, रामदेव मेघवंशी, अम्बा लाल मेघवंशी, बाबूलाल मेघवंशी ,चंद्रप्रकाश मेघवंशी ,सांवर मेघवंशी , सोराम मेघवंशी तथा शिव मेघवंशी सहित कईं कार्यकर्ता उपस्थित थे ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.