आम जन का मीडिया
Anup Sir's Nalanda Academy!

अनूप सर की नालन्दा एकेडमी !

इंडियन कम्युनिटी एक्टिविस्ट नेटवर्क के वार्षिक सम्मेलन में सेवाग्राम के गांधी आश्रम जाने का मौका मिला ।
यहां पहुंच कर बाड़मेर के युवा साथी हरीश सेजु से पता चला कि राजस्थान के कुछ दलित युवा वर्धा में रहकर उच्च शिक्षा के लिए कोचिंग कर रहे है ,जिज्ञासा हुई कि यहाँ कौन उन्हें कोचिंग करवा रहा है और वो भी निःशुल्क !
हरीश जी मिशनरी बन्धु है ,हाल ही में उन्होंने अपने जन्मदिन पर 100 पुस्तकें घर घर अम्बेडकर मंगवा कर वितरित की थी ।
उन्होंने बाड़मेर के बालोतरा इलाके के टापरा गांव के भटा राम /भुपेन के नम्बर दिये ,संपर्क करने पर पता चला कि राजस्थान के 13 स्टूडेंट यहां पर रह कर अध्ययन कर रहे हैं , 8 बाड़मेर के ,4 चुरू के और 1 अलवर से ,सभी अनुसूचित जाति के युवा है ,आगे पढ़ने के लिए कड़ा श्रम कर रहे हैं।
पूरे देश से 106 स्टूडेंट है इस वक़्त नालंदा एकेडमी में ,अनूप सर फ्री में पढ़ाते हैं ,ये छात्र छात्राएं दलित ,आदिवासी ,घुमन्तू और अन्य पिछड़े वर्ग से आते है ,इन्हें उच्च शिक्षा के लिए तैयार करना अनूप सर का ध्येय है ।
अनूप सर के नाम से लोकप्रिय अनूप कुमार जी मूलतः लखीमपुर खीरी ,उत्तरप्रदेश के रहवासी है ,जेएनयू से पढ़े लिखे है ,इंजीनियरिंग के बैक ग्राउंड से आते है ,पांच साल पहले डॉ अम्बेडकर समाज कार्य महाविद्यालय में अंग्रेजी पढ़ाने आये थे ,फिर यही के हो गये ,दलित बहुजन बच्चों को उच्च शिक्षा हेतु पढ़ाने लगे ,वर्धा के भीम नगर में स्थित सम्यक बुद्ध विहार का ऊपरी हिस्सा उनका ठिकाना बन गया ,उन्होंने नालन्दा एकेडमी के नाम से कोचिंग इंस्टीट्यूट शुरू कर दिया ।
और लोगों की तरह वे कोचिंग फेक्ट्री नही चलाते ,लाभ कमाना उनका उद्देश्य नही है ,वे वंचित समुदाय के विद्यार्थियों के लिए यह सेवा पूर्णतः निःशुल्क देते है ,उनको पिछले चार साल में इसके उत्साहजनक परिणाम मिल रहे है ,उनका ऊर्जावान दमकता चेहरा इस सफलता की गवाही देता है ।
मुझे जब उनके बारे में पता चला तो मैं नालन्दा एकेडमी जाने को अधीर हो गया ,सेवाग्राम के सम्मेलन का एक सत्र स्किप किया और दो ऑटो बदलते हुये भीमनगर जा पंहुचा ,वहाँ राजस्थान के युवा साथी भटा राम ने गर्मजोशी से स्वागत किया ,थोड़ी देर में अनूप कुमार सर भी आ गये ,ऐसे मिले ,जैसे बरसों से जानते हो ,जलपान के बाद 11 से 12 बजे तक का समय उन्होंने एकेडमी के बच्चों से इंटरेक्शन करने के लिए मुझे दिया ।
नालन्दा एकेडमी के युवा प्रतिभावान विद्यार्थियों के मध्य बोल कर तथा उनके द्वारा पूंछे गये सवालों के जवाब दे कर मुझे बहुत आनंद आया ,बहुत खुशी हुई ।
इस इंस्टीट्यूट को जाने माने मीडिया विशेषज्ञ एवम बहुजन विचारक दिलीप मंडल ने कंप्यूटर भेंट किये है ,वे यहां के विद्यार्थियों से मिलने और उनका मार्गदर्शन करने वर्धा आये भी है ।
देश भर से एकेडमिक इंटेलेक्चुअल और एक्टिविस्ट लोग यहां के स्टूडेंट्स से बातचीत करने आते रहते है ,अभी कल ही दलित आदिवासी आर्थिक अधिकार आंदोलन के साथी प्रियदर्शी तैलंग बजट और अन्य आर्थिक मुद्दों पर बात करके गये है ।
नालन्दा अकादमी बहुजन विद्यार्थियों का स्वागत करती है ,यहां पर उनसे कोई फीस नही ली जाती है ,अलबत्ता यहां रहने और खाने का खर्च जरूर स्वयं उठाना होता है ,अगर आप उच्च शिक्षा हेतु मार्गदर्शन और तैयारी करने के इच्छुक है तो कृपया अनूप सर की नालन्दा एकेडमी जाने के लिए जरूर विचार करें ,उनका पता इस प्रकार है –
अनूप कुमार
नालन्दा एकेडमी, सम्यक बुध्द विहार ,बहुजन हिताय हॉस्टल के सामने ,भीमनगर ,वर्धा ,महाराष्ट्र।
-भंवर मेघवंशी 
(संपादक -शून्यकाल )

Leave A Reply

Your email address will not be published.