एक गाँव गोद लो – मनुवाद को रोक लो !

मिलिये चेतनभाई रोहित से !

387

चेतनभाई दलाभाई रोहित गॉव-नवावास,तहसील-दांता,बनासकांठा जिल्ला (गुजरात) के निवासी है,पेशे से ईलेक्ट्रीकल कांट्रेक्टर है,चेतनभाई ने अपनी माँ मूळीबेन दलाभाई रोहित की तरफ से अपने बेटे पार्थ और बेटी रितु के द्वारा घर घर अम्बेडकर पुस्तिकाए 100 घर पहुचाने का कार्य किया है,100 पुस्तिका के लिए अभियान को 2000 /- रुपये उन्होने सहयोग दिया है .”पे बैक टु सोसायटी” की भावना को आत्मसात करनेवाले भीमसैनिक चेतनभाई साधुवाद के पात्र है .

चेतनभाई सामाजिक कार्यकर्ता के तौर पर बाबासाहब के विचारो के प्रचार प्रसार का बहुत बढिया कार्य कर रहे है,वो समाज मे अंधश्रद्धा उन्मूलन के लिए अलग अलग गॉवो मे भीम गाथा का आयोजन भी करते है.”एक गाँव गोद लो -मनुवाद को रोक लो ” की टीम के सक्रिय साथीयों के साथ हर शनिवार भीम गाथा आयोजित करने पर आज तक करीब 25 भीमगाथा कर चुके है,उनकी टीम का सपना है कि बाबासाहब की 126 वी जन्मजयंति से लेकर 127 वी जन्मजयंति तक 127 भीम गाथा का प्लान करके व करवाकर बाबासाहब की विचारधारा को हर घर मे प्रस्थापित करना है.उनकी टीम के जज्बे को जय भीम !

शिक्षा जाग्रति और सामाजिक कुरीतियों एवम अंधश्रध्धा निर्मूलन के लिए कार्यरत ऐसे सच्चे भीम सैनिक को सलाम.शून्यकाल व घर घर अम्बेडकर अभियान की और से चेतन भाई रोहित व उनकी टीम को बाबासाहब के कारवां को आगे बढाने मे अभूतपूर्व योगदान की सराहना करते है .

Leave A Reply

Your email address will not be published.