जागरूक होकर ही आदिवासी समुदाय अपने हक प्राप्त कर सकता हैं -मेघवंशी

203

करजलिया, (भीलवाड़ा)20 दिसम्बर 2019 )
करजालिया ग्राम पंचायत के नया डोटा गांव में एकलव्य युवा संगठन के बैनर तले भील समाज की एक मीटिंग आयोजित की गई,जिसमें भील समाज के लोगों ने बताया कि हमारे समाज को कृषि कनेक्शन से बरसों से वंचित रखा गया है। उनको जनजाति का लाभ नहीं मिला है,कनेक्शन की प्रतीक्षा सूची में उनको सामान्य श्रेणी में रख कर विगत 8 वर्षों से प्रतीक्षा करवाई जा रही है।
मीटिंग में भील समाज के विकास,शिक्षा,स्वास्थ्य व पोषण तथा कृषि संबंधी अन्य मुद्दों पर भी विस्तार से चर्चा की गई, इस मौके पर झरना महादेव में प्रस्तावित समाज के भवन और आरक्षण के मसले प्रमुखता से उठाए गए।
एकलव्य युवा संगठन के द्वारा आयोजित इस मीटिंग को मुख्य अतिथि भंवर मेघवंशी ने संबोधित करते हुए कहा कि – “जागरूक हो कर ही आदिवासी समुदाय अपने संवैधानिक हक प्राप्त कर सकता है,उन्होंने इस बात पर आश्चर्य जताया कि भील समाज जैसे गरीब आदिवासी समुदाय के किसानों को कृषि कनेक्शन जनरल कैटेगरी में दिए जा रहे है,जिससे उनके कुओं पर  विद्युत कनेक्शन  लगने में 8-10 साल लंबा इंतजार करना पड़ रहा है और डिमांड राशि भी ज्यादा चुकानी पड़ रही है।
मेघवंशी ने राज्य सरकार से मांग की है कि जनजाति समुदाय के कृषकों को प्राथमिकता से कृषि कनेक्शन दें। मेघवंशी ने समाज के जागरूक युवाओं से अपील की कि वे समाज को उसके हक दिलाने के लिए संगठित हो कर काम करे।”
इस अवसर पर कैलाश भील,बद्री भील,हरदेव भील,हरजी भील,रुघनाथ भील,जगदीश भील,बंशी लाल भील,पन्ना लाल भील,लादू लाल मेघवंशी,गिरधारी भील,तेजू भील,माधु भील,सोहन भील व शिव भील आदि ने अपने विचार व्यक्त किये। सभा का संयोजन गौसेवक देबीलाल मेघवंशी ने किया। मीटिंग में विभिन्न गांवों के भील समाज के प्रतिनिधियों ने शिरकत की।

Leave A Reply

Your email address will not be published.